बदायूँ: 'बोर्ड करेगा कब्र खोदने का फ़ैसला'

बदायूँ का गाँव

बदायूं में दो बहनों के कथित बलात्कार और हत्या के मामले की जांच कर रहे केंद्रीय जाँच ब्यूरो यानी सीबीआई ने कहा है कि कब्र खोदकर शव निकालने का फ़ैसला मेडिकल बोर्ड करेगा.

सीबीआई प्रवक्ता कंचन प्रसाद ने बीबीसी संवाददाता तुषार बनर्जी को बताया कि मामले की जांच के लिए सीबीआई ने एक मेडिकल पैनल का गठन किया है.

उन्होंने कहा कि अगर मेडिकल पैनल सिफ़ारिश करता है, तो ही शवों को कब्र खोद कर निकाला जाएगा.

सीबीआई प्रवक्ता ने कब्र खोदकर शव निकाले जाने को लेकर भारतीय मीडिया में चल रही ख़बरों पर कोई भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया.

हालांकि उन्होंने बताया कि चूंकि मारी गई लड़कियां नाबालिग थीं इसलिए उनका दाह-संस्कार नहीं किया गया था, उन्हें दफ़न किया गया था.

'जांच जारी है'

सीबीआई प्रवक्ता से जब ये सवाल किया गया कि क्या ऑनर किलिंग की दृष्टि से भी मामले की जांच की जा रही है, तो उन्होंने कहा कि जब तक जांच किसी नतीजे पर नहीं पहुंचती तब तक कुछ नहीं कहा जा सकता.

इमेज कॉपीरइट Reuters

बदायूं के कटरा शहादतगंज गांव में 28 मई को दो चचेरी बहनों का शव पेड़ से लटका मिला था. इस मामले के राजनीतिक रूप से तूल पकड़ने के बाद सीबाई को जांच सौंपी गई थी.

सीबीआई ने जून के दूसरे हफ़्ते में एफ़आईआर दर्ज करके मामले की जांच शुरू की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार