सोशल सरगर्मी: गज़ा, एमएच17 और फर्ज़ी तस्वीरें

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

सोशल मीडिया पर आज बात हो रही है मलेशियाई एयरलाइन की, साथ ही गज़ा में इसरायल के नए हमले की.

कुछ बहसें भी चल रही हैं इन्हीं से जुड़े मुद्दों पर. चाहे तस्वीरें हो या फिर टिप्पणियां. लोग गज़ा के मुद्दे पर लंबी बहस कर रहे हैं जबकि मलेशियाई एयरलाइंस के मामले में लोग दुख प्रकट कर रहे हैं.

#MH17 के ज़रिए लोग मलेशियाई एयरलाइंस के बारे में ज्यादा जानकारियां जुटा रहे हैं और तस्वीरें शेयर कर रहे हैं. इसमें विभिन्न अखबारों की रिपोर्टें भी शेयर की जा रही हैं और साथ ही अख़बारों के मुखपृष्ठ भी.

बक नाम के जिस मिसाइल लांचर से मलेशियाई विमान को गिराए जाने की बात कही जा रही है उसकी तस्वीरें बीबीसी हिंदी फेसबुक पन्ने पर बड़ी तादाद में लोगों ने शेयर की हैं.

इमेज कॉपीरइट BBC Hindi

इसके अलावा बीबीसी हिंदी के फ़ेसबुक पेज पर लोग वो स्लाइड भी शेयर कर रहे हैं जिसमें बताया गया है कि किस देश के कितने लोग विमान हादसे में मारे गए हैं.

ग़ज़ा

इमेज कॉपीरइट AFP

#गज़ा के मामले में भारत में अधिकतर लोगों में गुस्सा दिख रहा है लेकिन इसराइली हमले को समर्थन करने वाले लोगों की संख्या भी कम नहीं है.

कई लोगों ने चेतन भगत के उस ट्विट की कड़ी आलोचना की है जिसमें उन्होंने 'आतंकवाद के ख़िलाफ़ कार्रवाई' को उचित ठहराया था.

फ़र्ज़ी तस्वीरें

एक और तस्वीर जो कुछ दिनों से फेसबुक पर ख़ास तौर पर ट्रेंड कर रही है उसके बारे में पता चला है कि इसमें कई तस्वीरें फर्ज़ी हैं.

इमेज कॉपीरइट Facebook

असल में पिछले दिनों उधमपुर कटरा रेलवे लाइन शुरु हुई जिससे जुड़ी सात तस्वीरें वायरल हुईं. इन तस्वीरों के चालीस हज़ार से अधिक शेयर हुए.

लेकिन अगर इन तस्वीरों को गूगल इमेजेज के ज़रिए जांच की जाए तो पता चलता है कि इसमें से चार तस्वीरें दूसरे देशों के रेलवे लाइनों की है.

(बीबीसी हिंदी के क्लिक करें एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार