बंगाल में दिमाग़ी बुख़ार से 60 की मौत

इमेज कॉपीरइट AP

पश्चिम बंगाल में जापानी इंसेफ़लाइटिस (दिमागी बुख़ार) से कम से कम 60 लोगों के मौत की ख़बर है.

राज्य के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक़ राज्य के सात उत्तरी ज़िलों में लोग इस बीमारी से प्रभावित हैं.

भारत के कई राज्यों में मॉनसून के आते ही इंसेफ़लाइटिस बुख़ार से मौतों के मामले सामने आते हैं. लेकिन पहली बार पश्चिम बंगाल के उत्तरी हिस्से में इस बीमारी का भारी प्रकोप दिख रहा है.

राज्य के स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी विश्वरंजन सत्पथी ने मीडिया से कहा है कि इंसेफ़लाइटिस के कारण 7 से 20 जुलाई के बीच स्थिति ज़्यादा गंभीर हुई है.

स्वास्थ्य विभाग इस बीमारी के अचानक फैलने की वजह नहीं तलाश पाया है.

स्थिति बिगड़ी

उत्तर भारत के बिहार और उत्तर प्रदेश में हर साल इंसेफ़लाइटिस से सैकड़ों लोग मर जाते हैं. इनमें से ज़्यादतर बच्चे होते हैं.

इमेज कॉपीरइट BBC Manish Shandilya

बीते महीने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने इंसेफ़लाइटिस उन्मूलन के लिए व्यापक क़दम उठाने का आदेश दिया था, जिसमें टीकाकरण अभियान चलाने और प्रभावित ज़िलों के अस्पतालों में मरीजों के बिस्तरों की व्यवस्था शामिल है.

इंसेफ़लाइटिस बुख़ार के चलते मस्तिष्क में सूजन आ जाती है और इलाज़ नहीं मिलने पर मरीज़ की मौत हो जाती है. सिरदर्द के साथ तेज़ बुख़ार इस बीमारी के लक्षण हैं.

बीते साल भारत ने जापानी बुख़ार को रोकने के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत टीकाकरण अभियान शुरू किया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार