शिवसेना सांसदों की गिरफ़्तारी की मांग

मायावती इमेज कॉपीरइट PTI

दिल्ली के महाराष्ट्र सदन में एक मुस्लिम कर्मचारी से शिव सेना सांसदों के 'दुर्व्यवहार' की कई दलों ने निंदा की है.

एक टीवी चैनल की फुटेज में शिव सेना सांसदों को रोज़ा रखने वाले कर्मचारी को जबरदस्ती रोटी खाते दिखाया गया है.

बसपा प्रमुख मायावती ने संसद भवन परिसर में कहा कि अगर इस घटना में सच्चाई है तो केंद्र सरकार को इस मामले में कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए. उन्होंने शिव सेना सांसद की गिरफ़्तारी की मांग की.

वहीं अपने सांसदों का बचाव करते हुए शिव सेना सांसद संजय राउत ने आरोपों को ग़लत बताया.

उन्होंने कहा कि मुस्लिम भाई के साथ जो भी हुआ वह जान-बूझकर नहीं किया गया. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सदन में चारों तरफ अव्यवस्था का आलम है.

शिवसेना के सांसद वहाँ ठहरे हुए हैं, उन्होंने वहां की अव्यवस्था के खिलाफ़ आवाज़ उठाई थी.

भ्रष्टाचारियों का इलाज

एमआईएम के असदउद्दीन ओवैसी ने इस घटना को बर्बर कार्रवाई बताया, जबकि कांग्रेस नेता कमलनाथ ने इस मामले पर संसद में बहस कराने की मांग ताकि सच्चाई सामने आ सके.

इमेज कॉपीरइट AP

उन्होंने कहा कि शिव सेना के इनकार पर किसी को विश्वास नहीं है.

एनसीपी सांसद माज़िद मेनन ने इस मामले की जांच की मांग की है.

कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा (@milinddeora) ने ट्वीटर पर कहा, "यह मुद्दा केवल धार्मिक कट्टरता से जुड़ा नहीं है. यह क़ानून अपने हाथ में लेने का मामला है. सांसदों का भीड़ वाला न्याय अक्षम्य है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार