ग़ज़ाः पांच फ़लस्तीनियों की मौत

ग़ज़ा इमेज कॉपीरइट BBC World Service

ग़ज़ा में संघर्ष विराम ख़त्म होते ही इसराइल ने ग़ज़ा में हमास के 33 ठिकानों को निशाना बनाया, जबकि दक्षिणी इसराइल पर पांच रॉकेट दाग़े गए हैं.

ग़ज़ा के स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक़ ताज़ा हमलों में पांच फ़लस्तीनियों की मौत हुई है. इनमें एक 12 साल का बच्चा भी है.

इसराइल बातचीत से हट गया है. इसराइली अधिकारियों का कहना है कि वे 'हिंसा के बीच बातचीत' नहीं करेंगे.

संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक़ आठ जुलाई से शुरू हुई हिंसा में अब तक 1960 लोगों की मौत हो चुकी हैं.

व्हाइट हाउस प्रवक्ता जोश अर्नेस्ट ने दोनों पक्षों से स्थायी संघर्ष विराम की अपील की है.

अर्नेस्ट ने कहा, "हमास के रॉकेट हमले जारी रखने के फ़ैसले से न सिर्फ़ इसराइल और ग़ज़ा के लोगों के लिए ख़तरा बढ़ेगा बल्कि इससे फ़लस्तीनी लोगों की उम्मीदें पूरा के लिए भी कुछ नहीं होगा."

'बर्दाश्त से बाहर'

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने भी फिर हिंसा शुरू होने की आलोचना करते हुए कहा कि नागरिकों की मौतें बर्दाश्त के बाहर हैं.

क़ाहिरा में इसराइली और फ़लस्तीनी प्रतिनिधियों के बीच कोई समझौता नहीं हो सका है.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

हमास के मुताबिक़ इसराइल ने ग़ज़ा की नाक़ेबंदी ख़त्म करने की मांग ठुकरा दी है.

वहीं हमास ने इसराइल की हथियार डालने की मांग मानने से इनकार कर दिया है.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

हालांकि हमास का कहना है कि ताज़ा हिंसा के बावजूद फ़लस्तीनी वार्ता के लिए तैयार हैं.

शुक्रवार शाम फ़लस्तीनी प्रतिनिधियों ने क़ाहिरा में मिस्र के मध्यस्थों से भी मुलाक़ात की.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार