जेट के जहाज़ का 1.5 किलोमीटर गहरा गोता

फ़ाइल फ़ोटो इमेज कॉपीरइट AFP

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय इन रिपोर्टों की जांच कर रहा है कि मुंबई से ब्रसेल्स जा रहे जेट एयरवेज़ के एक विमान ने शुक्रवार को तुर्की के ऊपर उड़ते हुए पांच हज़ार फ़ुट का गोता खाया.

मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि जब ये घटना हुई तब इस बोइंग 777 विमान का मुख्य पायलट सो रहा था, जबकि सह-पायलट अपना टैबलेट देखने में व्यस्त थीं.

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने कहा है कि उसने इस घटना को गंभीरता से लिया है और दोनों पायलटों को जांच पूरी होने तक ड्यूटी रोस्टर से हटा दिया गया है.

जेट एयरवेज़ ने भी इस घटना की अपने स्तर पर जांच शुरू कर दी है. साथ ही कहा है कि डीजीसीए की जांच में भी पूरा सहयोग करेंगे.

जांच

रिपोर्टों के मुताबिक़ विमान के निर्धारित से कम ऊंचाई पर उड़ने पर अंकारा एयर ट्रैफिक कंट्रोलर (एटीसी) सतर्क हो गया.

एटीसी की तरफ़ से कॉल के बाद विमान वापस अपनी निर्धारित ऊंचाई पर गया.

डीजीसीए ने मंगलवार को दोनों पायलटों को तलब किया और घटना के बारे में सवाल किए. डीजीसीए ने तीन सदस्यीय जांच दल बनाया है जो जांच करेगा कि इन पायलटों की ट्रेनिंग ठीक तरह से हुई या नहीं.

जांच दल से 31 अगस्त तक रिपोर्ट सौंपने को कहा गया है. इसके अलावा विमान दुर्घटना जांच ब्यूरो से इस मामले की जांच करने को कहा गया है.

जेट एयरवेज़ के प्रवक्ता ने कहा, "एयरलाइंस ने इस मामले की आंतरिक जांच शुरू की है. इस मामले में डीजीसीए को पूरा सहयोग दिया जाएगा."

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार