दंगे की रिपोर्ट सपा की रिपोर्टः अमित शाह

अमित शाह इमेज कॉपीरइट Reuters

अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार मंगलवार को लखनऊ पहुंचे भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने सहारनपुर दंगों पर आई रिपोर्ट को ख़ारिज कर दिया है.

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा गठित समिति की रिपोर्ट को उन्होंने राजनीति से प्रेरित बताया.

उन्होंने कहा, ''यह रिपोर्ट समाजवादी पार्टी की रिपोर्ट है और इसलिए हम इसे गंभीरता से नहीं ले रहे हैं.''

इस रिपोर्ट में दंगे के लिए प्रशासन की लापरवाही के साथ भाजपा सांसद राघव लखनपाल को भी ज़िम्मेदार ठहराया गया है.

पांच सदस्यीय जांच समिति के अध्यक्ष प्रदेश सरकार के वरिष्ठ मंत्री शिवपाल यादव थे.

अमित शाह ने कहा कि प्रदेश में क़ानून व्यवस्था बिगड़ चुकी है और अखिलेश सरकार इसका ठीकरा दूसरों पर फोड़ने में लगी हुई है.

कार्यकर्ताओं को नसीहत

इमेज कॉपीरइट Getty

आगामी उप चुनाव को देखते हुए उन्होंने कार्यकर्ताओं से 'आक्रामक होकर जनता की आवाज़ बनने को कहा.'

साथ ही उन्होंने नसीहत भी दी कि कार्यकर्ता ऐसा कुछ न करें जिससे अखिलेश सरकार को 'दोष मढ़ने' का मौका मिल जाए.

राज्य में 13 सितंबर को एक लोकसभा और 11 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने वाले हैं. इसके चलते प्रदेश में सियासी सरगर्मी तेज़ हो गई है.

माना जा रहा है कि अमित शाह का यह दौरा अखिलेश सरकार को घेरने की रणनीति बनाने के लिए हुआ है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार