बिहार: लालू-नीतीश को छह, भाजपा को चार

लालू-नीतीश साथ साथ इमेज कॉपीरइट manish shandilya

राजनीतिक दुश्मनी भुलाकर लगभग 20 साल के बाद एक साथ आए बिहार के दो दिग्गज लालू प्रसाद और नीतीश कुमार भारतीय जनता पार्टी के ख़िलाफ़ एक नई राजनीतिक ताक़त बन कर उभरे हैं.

बिहार की 10 विधानसभा सीटों के लिेए 21 अगस्त को हुए उपचुनाव में लालू-नीतीश-कांग्रेस महागठबंधन ने छह सीटें जीत ली है.

बिहार के अलावा पंजाब, मध्यप्रदेश और कर्नाटक की कुल 18 सीटों के लिए उपचुनाव हुए थे.

राज्यों के नतीजों को जानने के लिेए विस्तार से पढ़ें.

बिहार में छपरा, मोहिउद्दीननगर और राजनगर से राजद ने जीत हासिल कर ली है जबकि भागलपुर से कांग्रेस ने जीत हासिल की है. जनता दल(यू) को जाले और परबत्ता पर सफलता मिली है.

भाजपा ने बांका, नरकटियागंज, मोहनिया और हाजीपुर पर जीत हासिल की है.

लालू प्रसाद की आरजेडी ने चार, नीतीश कुमार के जनता-दल(यू) ने चार और कांग्रेस ने दो सीटों पर चुनाव लड़ा था.

वहीं भाजपा ने नौ सीटों और एलजेपी ने एक सीट पर उम्मीदवार उतारे थे.

बिहार में भाजपा को झटका

2010 विधानसभा चुनाव में भाजपा के पास छह सीटें थीं लेकिन अगर 2014 के लोकसभा चुनाव के नतीजों की बात की जाए तो उसके अनुसार भाजपा को नौ सीटों पर बढ़त हासलि थी.

हालांकि उपचुनाव को लेकर मतदाता इतने उत्साहित नहीं दिखे थे.

इन दस सीटों पर सिर्फ़ 47 प्रतिशत वोटिंग हुई थी लेकिन इसके बावजूद इन नतीजों को अगले साल (अक्तूबर 2015) बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव के सेमीफ़ाइनल के रूप में देखा जा रहा है.

पंजाब

पंजाब की दो सीटों में से एक पर कांग्रेस और एक पर शिरोमणी अकाली दल ने जीत हासिल की.

कांग्रेस सांसद अमरेंद्र सिंह की पत्नी और पूर्व केंद्रीय मंत्री परणीत कौर ने पटियाला सीट जीती है जबकि तलवंडी साबो से शिरोमणी अकाली दल ने जीत हासिल की है.

इस चुनाव में शायद सबसे चौंकाने वाली बात ये रही कि आम आदमी पार्टी के दोनों उम्मीदवारों की ज़मानत ज़ब्त हो गई है.

2014 के लोकसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने चार सीटें जीती थीं.

मध्यप्रदेश

मध्यप्रदेश की तीन सीटों में से भाजपा ने दो और कांग्रेस ने एक सीट जीती है.

कर्नाटक

कर्नाटक की तीन सीटों में कांग्रेस ने बेल्लारी और चिक्कोडी-सदालगा सीट जीत ली है जबकि शिकारीपुरा से भाजपा को सफलता मिली है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार