पटना: ट्रक ने पांच बच्चों को कुचला

दुर्घटना के बाद प्रदर्शन
Image caption हादसे के बाद लोगों को गुस्सा भड़क उठा और उन्होंने इसके विरोध में प्रदर्शन किया

बिहार की राजधानी पटना में पुलिस के अनुसार शनिवार की देर रात ट्रक से कुचलकर पांच बच्चों की मौत हो गई.

घटना उस समय हुई जब अगमकुआं टीवी टावर के पास स्थित एनबीसीसी के अहाते में ये बच्चे ट्रक की चपेट में आ गए. मृतकों में जितेंद्र और धर्मेंद्र नाम के दो सगे भाई शामिल हैं.

पुलिस के अनुसार पांचों बच्चों की मौत घटनास्थल पर ही हो गई. घटना में एक व्यक्ति घायल भी हुआ है जिनका इलाज पटना स्थित सरकारी अस्पताल एनएमसीएच में चल रहा है और उनकी स्थिति ख़तरे से बाहर बताई गई है.

पटना सिटी के एसडीपीओ राजेश कुमार ने बीबीसी को फ़ोन पर बताया कि सभी मृतक बच्चों की उम्र बारह से अठारह साल के बीच है.

ये बच्चे घटनास्थल के पास स्थित झोपड़पट्टी में रहते थे और सोने के लिए एनबीसीसी के अहाते में गए थे.

लोगों का ग़ुस्सा

घटना के बाद रविवार की सुबह आक्रोशित स्थानीय लोगों ने मुआवज़े और अभियुक्त ट्रक चालक की गिरफ़्तारी की मांग को लेकर एनएच-30 जाम किया और पुलिस बल पर हल्का पथराव भी किया. हालांकि अब इस मार्ग पर यातायात बहाल कर दिया गया है.

इस संबंध में राजेश कुमार ने बताया कि रविवार सुबह अभियुक्त ड्राइवर को ट्रक के साथ गिरफ़्तार कर लिया गया है. साथ ही घटना के सिलसिले में एक और व्यक्ति की गिरफ़्तारी भी हुई है.

ज़िला प्रशासन की ओर से विभिन्न सरकारी योजनाओं के तहत मृतक परिवारों को मुआवज़ा भी दिया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार