लेने और देने को बस गीता ही: मोदी

नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट AP

जापान दौरे पर गए प्रधानंत्री नरेंद्र मोदी ने जापानी सम्राट को गीता भेंट की है और इसे सर्वोत्तम उपहार बताया. साथ ही उन्होंने भारतीय युवाओं की भी ख़ूब तारीफ़ की.

टोक्यो में मोदी ने भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि जो काम अरबों का बजट नहीं कर सकता था, वो 20-22 साल के युवाओं ने कर दिखाया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि सूचना तकनीक के ज़रिए भारतीय युवाओं ने दुनिया में भारत की छवि को बदला है.

उन्होंने अपने भाषण में ताइवान के अपने एक दौरे का ज़िक्र किया. उन्होंने कहा, "एक इंटरप्रेटर ने पूछा कि क्या भारत में अब भी जादू टोना, काला जादू चलता है और लोग सांपों से खेलते हैं, मैंने कहा कि अब हम सांप से नहीं, बल्कि माउस से खेलते हैं."

दौरा कामयाब

उन्होंने वहां मौजूद भारतीय मूल के लोगों से कहा कि वो अपने बच्चों में भारतीय संस्कृति के बीज रोपें.

मोदी ने बताया कि उन्होंने जापान के सम्राट को भगवत गीता उपहार में दी है. उन्होंने कहा, "मेरे पास इससे बढ़ कर देने को कुछ नहीं है. दुनिया के पास भी इससे बढ़कर पाने को कुछ नहीं है."

उन्होंने अपने जापान दौरे को बेहद कामयाब बताया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार