भूस्खलन में चार सैनिकों सहित नौ मरे

कश्मीर में आई बाढ़ इमेज कॉपीरइट PTI

भारत प्रशासित कश्मीर के अधिकारियों ने कहा है कि भारी बारिश की वजह से बुधवार रात हुए भूस्खलन में पांच लोगों की मौत हो गई है. अधिकारियों के मुताबिक़ यह घटना रियासी ज़िले के माहोर गांव में हुई.

इसके अलावा बीती रात चार सैनिक भी भूस्खलन की चपेट में आकर मारे गए हैं.

यह घटना कुपवाड़ा ज़िले की है, जो की नियंत्रण रेखा के पास है. घटना के समय वो एक वाहन में सवार होकर जा रहे थे.

भारतीय सुरक्षा बलों की कुछ चौकियां भी भूस्खलन के कारण बह गई हैं.

राहत और बचाव अभियान

इमेज कॉपीरइट PTI

जम्मू कश्मीर के वरिष्ठ अधिकारी रोहित कंसल ने कहा कि सेना और पुलिस की मदद से राहत और बचाव अभियान चलाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि गांव में मिट्टी से बने घर ढह सकते हैं, इसमें लोगों की जान जा सकती है. लेकिन हमने उन्हें बचाने की सभी तैयारी की है.

माहोर गांव में और दक्षिण कश्मीर के कई अन्य गांवों हुए भूस्खलन के मलबे में कई लोगों के फंसे होने की ख़बरे हैं.

अधिकारियों ने आपदा की घोषणा कर दी है. सभी स्कूलों और कॉलेजों को बंद कर परिक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं.

श्रीनगर-लद्दाख और श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग को यात्रा के लिए ख़तरनाक घोषित कर दिया गया है.

कश्मीर घाटी में झेलम और सिंध और जम्मू में चिनाब नदीं ख़तरे के निशान से ऊपर बह रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार