बंगाल: थूक कर चटवाया फिर लाश मिली

  • 3 सितंबर 2014
बलात्कार के विरोध में प्रदर्शन Image copyright AFP

पश्चिम बंगाल के जलपाइगुड़ी ज़िले में एक खाप पंचायत में बेइज़्ज़त की गई एक पंद्रह वर्षीय युवती की कथित बलात्कार के बाद हत्या कर दी गई है.

युवती का शव मंगलवार को धुपगुरी क़स्बे में रेलवे ट्रेक के पास मिला.

एफ़आईआर के मुताबिक लड़की के पिता का एक पड़ोसी से ट्रेक्टर को लेकर विवाद था. स्थानीय तृणमूल कांग्रेस नेता ने दोनों परिवारों को सोमवार शाम अपने यहाँ समझौते के लिए बुलाया था.

नेता के यहाँ लगी पंचायत में लड़की के पिता को बेइज़्ज़त किया गया और पीटा गया. इस पर दसवीं की छात्रा ने विरोध किया था. लड़की को थूक कर चाटने को कहा और लड़की द्वारा विरोध करने पर उसे चेतावनी भी दी गई थी.

एफ़आईआर में परिजनों ने कहा है कि वो अपने पिता के साथ बदसलूकी का विरोध कर रही थी. ख़ामोश न होने पर नेताओं ने उसे बुरे अंजाम की चेतावनी दी थी.

पंचायत के दौरान ही लड़की अचानक ग़ायब हो गई. परिजन रात भर उसे खोजते रहे लेकिन वह नहीं मिली.

Image copyright AFP

अगले दिन लड़की का अर्धनग्न शव रेलवे पटरी के पास पड़ा मिला था. जलपाईगुड़ी के पुलिस अधीक्षक कुनाल अग्रवाल का कहना है कि रेलवे पुलिस और स्थानीय पुलिस ने अलग-अलग मामले दर्ज किए हैं और घटना की जाँच की जा रही है.

विपक्षी पार्टी सीपीआई (एम) ने तृणमूल कांग्रेस के नेताओं पर बलात्कार और हत्या का आरोप लगाया है. इसे लेकर सीपीआई (एम) ने आज ज़िले भर में बंद भी बुलाया है. छात्र संगठन एसएफ़आई ने धुपगुरी क़स्बे में छात्र हड़ताल बुलाई है.

हालांकि तृणमूल ने लड़की या उसके पिता को पंचायत में प्रताड़ित करने के आरोपों को नकार दिया है. तृणमूल नेताओं का कहना है कि लड़की स्वयं वहाँ से चली गई थी और उसने आत्महत्या की है.

इससे पहले इसी साल बीरभूम ज़िले में एक बीस वर्षीय आदिवासी युवती के साथ 'अवैध संबंधों' के आरोपों में पंचायत के आदेश पर तेरह लोगों ने कथित बलात्कार किया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार