'किशोरियों से नहीं हुआ था बलात्कार'

भारतीय पुलिस इमेज कॉपीरइट AP

भारत के पूर्वोत्तर राज्य असम में पेड़ से लटकी मिली दो किशोरियों के शवों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक़ किशोरियों से बलात्कार नहीं हुआ था.

सिलचर मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार, "मौत का कारण फांसी पर लटकने के कारण दम घुटना है. माइक्रोस्कोप से जांच में शुक्राणुओं की उपस्थिति का खुलासा भी नहीं हुआ है."

राज्य के पुलिस महानिरीक्षक विनोद कुमार ने बीबीसी को बताया, "पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बलात्कार की पुष्टि नहीं हुई है. अब मामले की आत्महत्या के एंगल से जांच की जा रही है."

बांग्लादेश से 300 मीटर दूर

यह घटना बांग्लादेश सीमा से क़रीब तीन सौ मीटर दूर बसे काबुलपुंजी गांव की है.

बुधवार को ग़ायब हुई क़रीब 16 साल की इन दो किशोरियों के शव गुरुवार को पेड़ से लटके मिले थे.

पुलिस के मुताबिक़ दोनों लड़कियों की उम्र क़रीब 16 साल है और दोनों ने ही पढ़ाई छोड़ दी थी.

शुरुआती जांच के बाद किशोरियों के शव पोस्टमॉर्टम के लिए सिलचर मेडिकल कॉलेज भेज दिए गए थे.

पुलिस ने इस मामले में अभी तक किसी को गिरफ़्तार नहीं किया है.

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में एक विशेष टीम बनाकर मामले की जांच की जा रही है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार