जयललिताः बंगलौर में सुरक्षा कड़ी

बंगलौर में लगे तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता के पोस्टर इमेज कॉपीरइट IMRAN QUERESHI

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता के ख़िलाफ़ आय से अधिक संपत्ति मामले में बंगलौर की विशेष अदालत में शनिवार को आने वाले फ़ैसले के मद्देनज़र सुरक्षा के भारी इंतज़ाम किए गए हैं.

बंगलौर के पुलिस कमिश्नर एमएन रेड्डी ने बीबीसी हिंदी को बताया कि दो तरह के सुरक्षा इंतज़ाम किए गए हैं.

उन्होंने कहा, "एक तरफ़ तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता की व्यक्तिगत सुरक्षा और दूसरी क़ानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए इंतज़ाम किए गए हैं."

आय से अधिक संपत्ति का मामला

इमेज कॉपीरइट tngovt
Image caption जयललिता एक विशेष विमान से मामले की सुनवाई के लिए बंगलौर पहुंचेंगी.

जयललिता एक विशेष विमान से एचएएल एअरपोर्ट पहुंचने वाली हैं ताकि वे परंपरा अग्रहरा की विशेष अदालत में पहुंच सके, जो बंगलौर के केंद्रीय जेल की विपरीत दिशा में स्थित है.

बंगलौर के मध्य में स्थित सिटी सिविल कोर्ट काम्पलेक्स से सुरक्षा चिंताओं के मद्देनज़र अदालत का स्थान परंपरा अग्रहरा कर दिया गया, क्योंकि जयललिता की तरफ़ से अदालत में पेश एक याचिका में सुरक्षा को लेकर चिंता ज़ाहिर की गई थी.

सुप्रीम कोर्ट की तरफ़ से मामले की निष्पक्ष सुनवाई के लिए बंगलौर की विशेष अदालत का गठन नवंबर 2003 में किया गया था, इसमें इस बात पर फ़ैसला होना है कि क्या जयललिता के पास से 1991-96 के दौरान 66.6 करोड़ रुपए की संपत्ति उनकी आय के ज्ञात स्रोतों से अधिक थी.

बंगलौर में जयललिता के समर्थक

1996 के इस मामले में जयललिता के साथ उनकी सहयोगी शशिकला, उनके दत्तक पुत्र सुधाकरन (जिन्हें उन्होंने बाद में त्याग दिया), शशिकला की भांजी इलावर्सी को भी आरोपी बनाया गया है.

पुलिस उनको हवाई अड्डे से अदालत तक हेलीकॉप्टर से लाने के लिए सोच रही थी. लेकिन इसके लिए उसे हेलीकॉप्टर नहीं मिला.

इमेज कॉपीरइट AFP GETTY

बंगलौर के पुलिस कमिश्नर रेड्डी ने कहा, "अभी हमने इस मसले पर अंतिम निर्णय नहीं लिया है."

बड़ी संख्या में बंगलौर पहुंचे जयललिता के समर्थकों के कारण सुरक्षा के अतिरिक्त इंतज़ाम किए गए हैं.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार