कश्मीर की विरासत पर बाढ़ का प्रहार

इमेज कॉपीरइट Majid Jhangir

सात सितंबर 2014 को भारत प्रशासित कश्मीर में आई भयानक बाढ़ ने 116 साल पुराने एसपीएस म्यूज़ियम समेत कई दूसरे विभागों के महत्वपूर्ण दस्तावेज़ और सांस्कृतिक स्मृतियों को भी नुक़सान पहुंचाया है.

श्रीनगर के एसपीएस म्यूज़ियम में 18,000 नमूने मौजूद हैं. बाढ़ ने सैकड़ों वर्ष पुरानी पांडुलिपियों को बुरी तरह नुक़सान पहुंचाया है. इसके अलावा कुछ पेंटिंग्स भी ख़राब हुई हैं.

अर्काइव्स, आर्केलॉजी एंड म्यूज़ियम्स के डायरेक्टर सज्जाद अहमद ने बीबीसी को बताया कि बाढ़ के कारण म्यूज़ियम में मौजूद पेंटिंग्स, पांडुलिपियाँ, पेपर मशीन, पश्मीना कपड़ा और दूसरी नायाब चीज़ें बच नहीं पाईं.

इमेज कॉपीरइट Majid Jhangir

उन्होनें कहा, "हमें अफ़सोस है कि जिन चीज़ों का नुक़सान हुआ है, वो अब अपनी असल सूरत में वापस नहीं आ सकती हैं. हम फिर भी कोशिश कर रहे हैं कि उनको बचाने का कोई रास्ता निकले."

सज्जाद अहमद मजीद कहते हैं, "हमारे इस म्यूज़ियम में जो सांस्कृतिक चीज़ें थीं वो अमूल्य थीं. म्यूज़ियम में मौजूद हर चीज़ हमारी विरासत है, जिसकी विश्व में क़ीमत की कोई सीमा नहीं है."

तबाही के निशान

इस म्यूज़ियम में 600 साल पुरानी शारदा लिपि के दस्तावेज़ों को सबसे ज़्यादा नुक़सान पहुंचा है. म्यूज़ियम में मौजूद किताबों की लाइब्रेरी में भी बाढ़ का पानी दाख़िल हुआ है, जिसके कारण लाइब्रेरी की बेशुमार क़िताबें ख़राब हो चुकी हैं.

इमेज कॉपीरइट Majid Jhangir

जम्मू कश्मीर अकादमी ऑफ़ आर्ट, कल्चर एंड लैंग्वेजेज में भी बाढ़ के पानी ने सैकड़ों नायाब दस्तावेज़ों को नुक़सान पहुंचाया है. बाढ़ ने राधा सिरीज़ की पेंटिंग्स और कश्मीर के जाने माने कवि महजूर की "महजूर डायरीज़" को भी अपने चपेट में लिया है.

अकादमी के संपादक अशरफ़ टाक कहते हैं, "बाढ़ का पानी उस कमरे में भी दाख़िल हुआ जिसमें हमने बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज़ रखे थे. जिसकी वजह से 60 अहम दस्तावेज़ ख़राब हो चुके हैं. इसके अलावा पेंटिंग्स भी महफूज़ नहीं रह पाई हैं. अकादमी में एक पब्लिशिंग सेक्शन भी है, जहां 60 हज़ार से भी ज़्यादा किताबें पानी से ख़राब हो चुकी हैं."

जम्मू कश्मीर हाईकोर्ट में भी बाढ़ से कई अदालती फ़ैसलों की फ़ाइलें नष्ट हो गई हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार