फडणवीस को विश्वास मत, विपक्ष का हंगामा

देवेंद्र फड़नवीस इमेज कॉपीरइट Maharashra Government

महाराष्ट्र में देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व वाली भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने विश्वास मत हासिल कर लिया है. विश्वास प्रस्ताव ध्वनि मत से पारित हुआ.

नवनिर्वाचित विधानसभा अध्यक्ष हरिभाऊ बागड़े ने मत विभाजन नहीं कराया है.

शिवसेना के एकनाथ शिंदे को सदन में विपक्ष का नेता चुना गया है. शिवसेना ने भाजपा सरकार की आलोचना करते हुए कहा है कि भाजपा ने प्रदेश के जनमत का अपमान किया है.

भाजपा सरकार के विश्वासमत हासिल करने के बाद कांग्रेस और शिवसेना के विधायक महाराष्ट्र विधानसभा के बाहर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं. ये विधायक फिर से विश्वासमत कराने की मांग कर रहे हैं.

शिवसेना का विरोध

शिवसेना ने महाराष्ट्र विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी सरकार के विरुद्ध मतदान का फ़ैसला किया था.

पार्टी नेता रामदास कदम ने सदन में जाने से पहले संवाददाताओं से बातचीत में इस बात की जानकारी दी थी.

इमेज कॉपीरइट PTI. MAHARASHTRA.GOV.IN
Image caption भाजपा अब एनसीपी के समर्थन के सहारे आगे बढ़ते दिख रहे हैं

कदम ने बताया कि उनकी पार्टी विपक्ष में बैठेगी. उन्होंने कहा, "हम महाराष्ट्र का विकास करेंगे इसकी हमें आशा थी मगर कल रात तक भी भाजपा की भूमिका यही थी कि पहले हमें मत दो फिर हम चर्चा करेंगे. उद्धव जी ने कहा है कि हम लाचार नहीं हैं."

शिवसेना और भारतीय जनता पार्टी के बीच चुनाव से पहले समझौता नहीं हो पाया था. चुनाव में भाजपा अकेली सबसे बड़ी पार्टी तो बनी, लेकिन उसे बहुमत नहीं मिल पाया. पार्टी को अब भी बहुमत साबित करने के लिए 20 से ज़्यादा विधायकों के समर्थन की ज़रूरत है.

'शिवसेना टूटेगी नहीं'

इसके बाद शिवसेना ने महाराष्ट्र की देवेंद्र फडनवीस सरकार में शामिल होने के लिए कुछ शर्तें रखी थीं जिसे पार्टी ने नहीं माना.

दरअसल राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने भाजपा सरकार को बाहर से समर्थन देने की घोषणा कर रखी है.

वैसे शिवसेना ने लगातार कहा है कि एनसीपी अपने फ़ायदे के लिए भाजपा का साथ दे रही है. साथ ही शिवसेना इसके लिए भाजपा की भी आलोचना कर रही है.

कदम ने कहा, "हम लाचार नहीं हैं, स्वाभिमान छोड़कर भाजपा के पीछे जाने की ज़रूरत नहीं है. अगर कोई सोचता है कि वे शिवसेना तोड़कर बहुमत पा लेंगे तो इस जन्म में ऐसा नहीं होने वाला है."

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप हमसे फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ सकते हैं.)

संबंधित समाचार