'नंगा कर पीटने' वाला वीडियो, सात गिरफ़्तार

युवक की पिटाई में गिरफ़्तार इमेज कॉपीरइट DEVIDAS DESHPANDE

महाराष्ट्र में एक विवादास्पद वीडियो के सिलसिले में पुलिस ने सात लोगों को गिरफ़्तार किया है. इस वीडियो में एक व्यक्ति दो लोगों को नंगा करके बेल्ट से पीटते हुए दिखाया गया है.

वीडियो महाराष्ट्र के कोल्हापुर ज़िले का बताया जा रहा है जिसमें दो युवकों को कथित तौर पर एक लड़की के प्रेम विवाह में मदद करने की सज़ा दी जा रही है.

पुलिस के अनुसार लड़की के संबंधियों ने दोनों युवकों को निर्वस्त्र कर उनकी पिटाई की और उनका वीडियो बनाकर व्हाट्सऐप पर डाल दिया.

इनमें से एक युवक बेलगाम के अस्पताल में भर्ती हैं और उनका इलाज चल रहा है.

स्थानीय पुलिस पर आरोप है कि उसने पहले तो इस मामले में दख़ल देने से इनकार कर दिया, लेकिन कर्नाटक पुलिस के महानिरीक्षक भास्कर राव के हस्तक्षेप के बाद कार्रवाई की गई.

गिरफ़्तारी

कर्नाटक पुलिस ने इस मामले में सात आरोपियों को इस मामले में गिरफ़्तार किया है.

इमेज कॉपीरइट DEVIDAS DESHPANDE
Image caption आरोप है कि युवकों को निर्वस्त्र करने के बाद उनकी पिटाई की गई और वीडियो बनाया गया

भास्कर राव ने बताया, "इस मामले से जुड़े सभी लोग चांदगड तहसील के हैं. घटनास्थल कर्नाटक सीमा से तीन किलोमीटर दूर है. सभी सात अभियुक्तों को शुक्रवार को गिरफ़्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा गया है."

पुलिस के अनुसार, अनिल नागरदाले और उनके दोस्त नागेश कोलकार ने सितंबर में एक लड़की की भागकर शादी करने में मदद की थी.

यह लड़की सुरेश घाटगे नाम के प्रॉपर्टी डीलर की भतीजी है. आरोप है कि घाटगे ने तीन नवंबर को बातचीत का बहाना कर इन दोनों युवकों को बेलगाम के पास शेतवडी गांव में बुलाया और एक कमरे में बंद कर उनकी पिटाई की और वीडियो बनाया.

आईजी का दखल

इमेज कॉपीरइट Reuters File Photo

10 नवंबर को नागरदाले के परिजनों ने पुलिस में शिकायत की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई.

आख़िरकार उन्होंने कर्नाटक के आईजी भास्कर राव से शिकायत की. तब जाकर मामला दर्ज़ हुआ और गिरफ़्तारी हुई.

अनिल नागरदाले ने एक मराठी चैनल को बताया, "पहले उन्होंने हमसे माफ़ी मंगवाई और फिर पिटाई शुरू कर दी."

राव ने कहा, "इसमें मुख्य अभियुक्त प्रॉपर्टी डीलर है. अभियुक्तों पर ग़ैरक़ानूनी ढंग से इकठ्ठा होने, गंभीर रूप से घायल करने, क़त्ल का प्रयास जैसी धाराएं लगाई गई हैं."

कोलकार की मां ने कहा, "इस वीडियो को देखकर रोंगटे खड़े हो जाते हैं. वे लोग इंसान नहीं शैतान हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार