तृणमूल-भाजपा कार्यकर्ताओं में झड़प, एक की मौत

तृणमूल कांग्रेस समर्थक इमेज कॉपीरइट AFP GETTY

पश्चिम बंगाल के बीरभूम ज़िले में रविवार को एक बार फिर तृणमूल कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं के बीच संघर्ष में एक व्यक्ति की मौत हो गई.

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राहुल सिन्हा के अनुसार, इस झड़प में एक व्यक्ति की मौत हो गई है जबकि एक घायल को ज़िला अस्पताल शउड़ी में भर्ती कराया गया है.

इस मामले में पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ़्तार किया है. भाजपा ने इस हिंसा में तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के हाथ होने का आरोप लगाया है.

हालांकि तृणमूल के बीरभूम ज़िला अध्यक्ष अनुब्रत मंडल ने भाजपा के दावे का खंडन किया है.

स्थानीय पत्रकार प्रभाकर मणि त्रिपाठी ने बताया कि ताज़ा हिंसा शनिवार रात से ही शुरू हो गई थी और जिस व्यक्ति को गोली लगी है वो घटना के समय अपने खेत में धान काट रहा था.

हिंसा

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption बीरभूम में राजनीतिक जमीन के लिए हो रही है हिंसा.

बीरभूम में भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में पिछले 27 अक्तूबर को तीखी झड़प हुई थी जिसमें तीन लोग मारे गए थे.

तबसे इस इलाक़े में तनाव का माहौल था. तीस अक्तूबर को भाजपा के केंद्रीय नेताओं की एक टीम घटना की पड़ताल के लिए बीरभूम रवाना हुई थी, लेकिन उन्हें पुलिस रास्ते में ही रोक लिया था.

प्रकार मणि त्रिपाठी के अनुसार, तृणमूल कांग्रेस के प्रभाव वाले इस इलाके में भाजपा का धीरे-धीरे अपना प्रसार कर रही है.

इस इलाक़े के पारुई और माकड़ा गांव भाजपा समर्थकों का गढ़ है. भाजपा का आरोप है कि इस इस इलाक़े में अपनी पैठ बढ़ाने के लिए तृणमूल कांग्रेस के लोग गांव पर हमला कर रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार