अध्यक्ष का 'पासपोर्ट लाया' सरकारी विमान!

छत्तीसगढ़ के विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल

सरकारी बंगले में 48 एयर कंडिशनर लगा कर विवादों में आए छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल पर इस बार अपना पासपोर्ट मंगाने के लिए सरकारी विमान का इस्तेमाल करने का आरोप लगा है.

दरअसल गौरीशंकर अग्रवाल को बांग्लादेश की राजधानी ढाका में 17 से 21 नवम्बर तक आयोजित एक कार्यशाला में पहुंचना था.

सोमवार को वे कार्यशाला में हिस्सा लेने के लिए नियमित विमान से कोलकाता पहुंचे. कोलकाता पहुंचने के बाद विधानसभा अध्यक्ष को पता चला कि वे अपना पासपोर्ट रायपुर में ही भूल आए हैं.

विपक्ष का आरोप है कि इसके बाद राज्य के सरकारी विमान से विधानसभा अध्यक्ष का पासपोर्ट कोलकाता भेजा गया, जिसके बाद वे ढाका की यात्रा पर जा सके.

Image caption मुख्यमंत्री रमन सिंह ने विधानसभा अध्यक्ष का बचाव किया है.

हालांकि राज्य के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने मामले में सफाई देते हुए कहा, “स्टेट प्लेन का कोई ट्रायल रन था, वे शायद उसी में गए थे.”

लेकिन विपक्ष इसे ग़लत बता रहा है.

नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव का कहना है, “अध्यक्ष जी पर पूरे छत्तीसगढ़ के विधानसभा के संचालन की जिम्मेवारी है, लेकिन वे अपना पासपोर्ट नहीं संभाल सके. उसे सरकारी खर्चे पर, सरकारी विमान से भेजा गया. विधानसभा अध्यक्ष को इस्तीफा दे देना चाहिए.”

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार