'बिग बॉस' पहुंचा नंबर एक के पायदान पर

सलमान ख़ान इमेज कॉपीरइट COLORS

साल के 46 हफ़्ते बीतने के बाद भी टीवी पर आने वाले डेली शोज़ के नंबरों में ज़्यादा फ़र्क़ नहीं दिख रहा लेकिन रिएलिटी शोज़ की गिनती में बड़ा उलटफेर हुआ है.

रिएलिटी शोज़ में इस हफ़्ते शीर्ष पर रहा बिग बॉस सीज़न 8.

इस शो का क्लाईमैक्स जैसे-जैसे पास आ रहा है, टीआरपी की सीढ़ी पर भी यह ऊपर चढ़ता जा रहा है.

वैसे इस शो की टीआरपी बढ़ने की एक वजह ये ख़बर भी मानी जा रही है कि इसमें पश्चिमी देशों की जानी-मानी अदाकारा किम करदाशियां आने वाली थीं लेकिन अब बिग बॉस के घर में उनकी एंट्री नहीं होगी.

दूसरे नंबर पर रहा 'कौन बनेगा करोड़पति' जिसे अमिताभ आज भी अपने चिर-परिचित अंदाज़ में लोकप्रिय बनाए हुए हैं.

इमेज कॉपीरइट Star Plus

और तीसरे स्थान पर रहा म्यूज़िकल रियलिटी शो इंडिआज़ रॉ स्टार. शो अंतिम चरण में है और बहुत जल्द फ़िनाले होने वाला है.

ड्रामा

पिछले कुछ समय से जितना प्यार स्टार प्लस के धारावाहिक 'दिया और बाती' को मिला है शायद ही दूसरे किसी शो को मिला है.

एक आईपीएस ऑफ़िसर संध्या राठी और उसके परिवार के इर्द-गिर्द घूमते इस शो को चुनौती देने के लिए वाकई किसी ऐसे शो को आना पड़ेगा जो हर मामले में 'दिया और बाती' से बेहतर हो.

इमेज कॉपीरइट
Image caption 'यह रिश्ता क्या कहलाता है' तीसरे स्थान पर है.

दूसरे स्थान के लिए मुक़ाबला बराबरी का रहा 'साथिया' और 'यह है मोहब्बतें' के बीच.

तीसरे स्थान पर रहा राजन शाही परिवार की कहानी दिखाता ड्रामा 'यह रिश्ता क्या कहलाता है'.

कुछ धारावाहिक ऐसे हैं, जो टीआरपी टेबल में तो कहीं नहीं आते लेकिन सालों साल से टीवी पर जारी हैं.

'सीआईडी' की लोकप्रियता का राज़?

कुछ धारावाहिक ऐसे हैं जो टीआरपी टेबल में तो कहीं नहीं आते लेकिन सालों साल से टीवी पर जारी है.

भारतीय टीवी पर क़रीब 17 साल से जारी है क्राइम शो 'सीआईडी'.

एसीपी प्रद्युम्न, दया और इंस्पेक्टर अभिजीत जैसे किरदार लोगों के ज़ेहन में रच बस गए हैं.

इमेज कॉपीरइट SONY TV

शो के निर्माता बी पी सिंह ने बीबीसी को बताया, "हमने आज भी शो को बहुत सरल रखा है. कहानी सीधी-सादी है. उसमें कोई अश्लीलता नहीं होती. इसलिए यह हर दर्शक वर्ग में लोकप्रिय है."

शुक्रवार से रविवार रात 10 बजे प्रसारित होने वाले इस शो का सप्ताह भर में 50 घंटे तक रिपीट टेलीकास्ट होता है. .

टीआरपी चार्ट में ना आने की वजह शो का वीकएंड पर आना बताया जाता है.

लेकिन दर्शकों के बीच शो ख़ासा लोकप्रिय है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार