कश्मीर: 11 सुरक्षाकर्मियों समेत 20 की मौत

कश्मीर इमेज कॉपीरइट AFP

जम्मू कश्मीर के उरी सेक्टर में सेना के कैंप पर हुए हमले में अब तक छह चरमपंथियों समेत 17 लोग मारे गए हैं.

जबकि श्रीनगर में हुई मुठभेड़ में दो चरमपंथी मारे गए हैं. भारतीय सेना के ब्रिगेडियर महमूद ने इसकी पुष्टि की है.

दूसरी ओर शोपियां, अवंतिपुरा और त्राल में ग्रेनेड हमला हुआ है.

त्राल में ग्रेनेड हमले में सात नागरिक घायल हुए हैं, जिनमें से एक की मौत हो गई है. इस तरह शुक्रवार को कश्मीर में हुए अलग-अलग हमलों में कुल 20 लोगों की मौत हो गई है.

ख़बरों के अनुसार गुरुवार आधी रात कुछ बंदूकधारी भारतीय सेना के उरी सेक्टर में मोहरा स्थित फ़ील्ड आर्टिलरी रेजिमेंट कैंप में घुसे थे.

दूसरा हमला श्रीनगर में हुआ, जिसमें दो चरमपंथी मारे गए हैं.

तीसरा हमला दक्षिण कश्मीर के शोपियां शहर में एक पुलिस स्टेशन पर हुआ.

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इन हमलों की निंदा की है और इन्हें जम्मू कश्मीर में अभूतपूर्व मतदान के बाद बने माहौल को ख़राब करने की कोशिश बताया है.

अपने ट्विटर अकाउंट पर मोदी ने लिखा, ''सवा अरब भारतीयों की उन बहादुर सैनिकों को श्रद्धांजलि, जिन्होंने अपनी जान दी. ये लोग देश के लिए जिए और मरे. हम उन्हें नहीं भूलेंगे.''

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption अभी एक और चरमपंथी के छिपे होने की खबर है.

नौ दिसंबर को उरी सेक्टर में भारत प्रशासित जम्मू-कश्मीर विधानसभा के तीसरे चरण का मतदान होना है.

उरी चुनाव क्षेत्र से एक पूर्व पुलिस अधिकारी भी उम्मीदवार हैं.

सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी श्रीनगर में रैली करने वाले हैं. माना जा रहा है कि चरमपंथी हमलों के पीछे भारतीय जनता पार्टी के राज्य सत्ता में आने का डर है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप के लिए क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार