पंजाब: नेत्र शिविर के आयोजक गिरफ़्तार

पंजाब में पुलिस ने गुरुदासपुर जिले में लगे उस नेत्र शिविर के आयोजक को गिरफ़्तार किया है जिसमें मोतियाबिंद ऑपरेशन के बाद कई लोगों की आंखों की रोशनी चली गई.

बीबीसी हिंदी से बातचीत में एसएसपी बटाला मनमिंदर सिंह ने शिविर के आयोजक मंजीत जोशी को गिरफ़्तार करने की पुष्टि की है.

पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री ने बीबीसी को बताया कि ऑपरेशन कराए लोगों में से अब तक 19 लोगों की आंखों की रोशनी जा चुकी है.

ऑपरेशन करने वाले डॉक्टर विवेक अरोड़ा से पुलिस पूछताछ कर रही है, हालांकि अभी उन्हें गिरफ्तार नहीं किया गया है.

अमृतसर के ज़िला चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर राजीव भल्ला ने बताया कि एक ग़ैर सरकारी संस्थान (एनजीओ) ने करीब 10-12 दिन पहले अजनाला तहसील के रघोमहल गांव में एक जांच शिविर का आयोजन किया था.

शिविर में आए सभी मरीजों ने आशंका जताई कि उनकी आंखों से कॉर्निया निकाल लिए जाने के कारण वे अब कुछ भी देख पाने में असमर्थ हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)