साक्षी महाराज ने बयान पर खेद जताया

इमेज कॉपीरइट PTI

भारतीय जनता पार्टी के सांसद साक्षी महाराज ने नाथूराम गोडसे को राष्ट्र भक्त बताने वाले अपने बयान पर ख़ेद जताया है. लेकिन विपक्ष इस पर प्रधानमंत्री मोदी के बयान की माँग कर रहा है.

शुक्रवार को लोकसभा में इस मुद्दे पर हंगामे के बीच साक्षी महाराज ने कहा, "मैं बापू का सम्मान करता हूं, सदन का सम्मान करता हूं. मैं अपने कहे शब्दों को वापस ले चुका हूं."

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए साक्षी महाराज ने कहा, "महात्मा गांधी की हत्या गोडसे ने की होगी, तब की होगी, लेकिन महात्मा गांधी की हत्या तब भी हुई जब आपने 1984 में सिखों का क़त्ले आम किया था."

साक्षी महाराज ने गुरुवार को बयान दिा था और कहा था कि गोडसे देश भक्त हैं हालांकि बाद में वे अपने बयान से पलट गए थे.

सदन में उठा मामला

इमेज कॉपीरइट AP

विपक्ष बराबर मांग करता रहा कि साक्षी महाराज माफ़ी मांगे लेकिन उन्होंने इतना ही कहा, "मैं अपने शब्दों को वापस लेता हूं और खेद प्रकट करता हूं."

लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि वो महात्मा गांधी के हत्यारे की प्रशंसा को सहन नहीं कर सकते हैं.

वहीं संसदीय कार्य मंत्री वैंकेया नायडू ने कहा कि सरकार पहले ही इस बयान से ख़ुद को अलग कर चुकी है.

उन्होंने विपक्ष पर आरोप लगाया कि वो पहले से ही तय करके आए हैं कि सदन को नहीं चलने देंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार