संदिग्ध ने माना 'आईएस अकाउंट चलाता था'

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

कर्नाटक पुलिस ने बेंगलुरु में उस व्यक्ति को हिरासत में लिया है जिस पर कथित तौर पर इस्लामिक चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट से जुड़ा एक ट्विटर अकाउंट चलाने का शक है.

कर्नाटक के डीजीपी एल पचाऊ ने 24 वर्षीय युवक महेदी मसरूर विश्वास को हिरासत में लेने की जानकारी दी है.

ब्रिटेन के 'चैनल 4' ने दावा किया है कि बेंगलुरू से एक व्यक्ति सोशल मीडिया के ज़रिए 'इस्लामिक स्टेट' के पक्ष में प्रचार करके उसके लिए भर्ती अभियान चला रहा था.

पचाऊ ने बताया कि संदिग्ध का संबंध पश्चिम बंगाल है और वो एक बहुराष्ट्रीय कंपनी में काम करता है.

पुलिस के मुताबिक़ संदिग्ध ने आईएस से जुड़ा ट्विटर अकाउंट चलाने की बात स्वीकार कर ली है.

डीजीपी पचाऊ ने बताया कि इस ट्विटर अकाउंट को लगभग 17 हजार लोग फॉलो करते हैं, जिसके ज़रिए लोगों को चरमपंथी संगठन से जुड़ने को कहा जाता था.

मेहदी मसरूर विश्वास को भारत के खिलाफ़ युद्ध छेड़ने और ग़ैर कानूनी गतिविधियां चलाने के आरोप में हिरासत में लिया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)