कोई विकास के एजेंडे से नहीं भटका सकता: शाह

धर्मांतरण, विकास, बीजेपी इमेज कॉपीरइट AFP

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि कोई भी केंद्र की एनडीए सरकार को विकास के एजेंडे से नहीं भटका सकता.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार धर्मांतरण पर उठे विवादों के बीच चेन्नई में अमित शाह ने पत्रकारों से कहा, "भाजपा ने धर्मांतरण के मुद्दे पर अपना रुख़ साफ़ कर दिया है. और कोई भी, पार्टी (सरकार) को उसके विकास के एजेंडे से नहीं भटका सकेगा."

अमित शाह ने कहा, "जहाँ तक धर्मांतरण की बात है, संसद में वेंकैया नायडू पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं कि जबरन धर्मांतरण के ख़िलाफ़ सरकार क़ानून बनाने के लिए तैयार है."

वलसाड में धर्मांतरण

इमेज कॉपीरइट AFP

एक दिन पहले ही भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के अलावा आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने भी जबरन धर्मांतरण के ख़िलाफ़ क़ानून बनाने की पैरवी की थी.

इसके बाद शनिवार को गुजरात के वलसाड में 100 ईसाइयों का धर्मांतरण करने की बात सामने आई.

इमेज कॉपीरइट AP

विपक्षी पार्टियां सरकार को "घर वापसी" के मुद्दे पर घेरने की कोशिश कर रही हैं. राज्यसभा में इस मुद्दे पर पिछले पूरे हफ्ते हंगामा होता रहा. विपक्ष प्रधानमंत्री के बयान की मांग पर अड़ा रहा और इस दौरान कोई कामकाज नहीं हो सका.

कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने ट्विटर पर रविवार को लिखा, "आरएसएस जबरन या लालच देकर होने वाले धर्मांतरण के ख़िलाफ़ क़ानून चाहता है. क्या वो सचमुच ऐसा चाहते हैं? क्या वो घर वापसी को धर्मांतरण मानेंगे?"

इमेज कॉपीरइट AFP

वलसाड़ से पहले आगरा में भी हिंदू संगठनों ने लोगों का धर्मांतरण करने की कोशिश की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार