संदिग्ध बोट में चेतावनी के बाद विस्फोट

संदिग्ध बोट की ऊपर से ली गई तस्वीर, भारतीय कोस्ट गार्ड इमेज कॉपीरइट indian coast guard

31 दिसंबर की मध्यरात्रि में भारत के कोस्ट गार्ड के एक जहाज़ और विमान ने अरब सागर में एक संदिग्ध नाव को भारत-पाक जल सीमा के पास रुकने की चेतावनी दी.

31 दिसंबर को मिली ख़ुफ़िया जानकारी के मुताबिक़ कराची के केटी बंदर से एक मछली पकड़ने वाली नाव कुछ आपत्तिजनक सामान लेकर अरब सागर के रास्ते जा रही थी.

यह नाव गुजरात के पोरबंदर से 365 किलोमीटर की दूर पर देखी गई थी.

जानकारी के आधार पर कोस्ट गार्ड के डोर्नियर विमान ने समुद्र में तलाशी शुरू की और संदिग्ध नाव का पता लगाया.

भागने की कोशिश

इसके बाद गश्त लगा रहे कोस्ट गार्ड के जहाज़ ने नाव का रास्ता रोका.

कोस्ट गार्ड के जहाज़ ने जांच के मक़सद से नाव को रुकने की चेतावनी दी लेकिन नाव ने अपनी रफ़्तार बढ़ा ली और भारतीय समुद्री सीमा से बाहर भागने की कोशिश करने लगा.

यह क़वायद एक घंटे तक चली और आख़िरकार कोस्ट गार्ड के जहाज़ ने चेतावनी के रूप में गोली चलाई तब जाकर वे नाव को रोकने में कामयाब हुए.

इमेज कॉपीरइट Indian Coast Guard

नाव पर चार लोग दिखाई पड़ रहे थे जो जांच में सहयोग करने की सारी चेतावनियों को नज़रअंदाज़ कर रहे थे.

इसके तुरंत बाद चारों ने अपने आप को नाव के अंदर छुपा लिया और नाव में आग लगा दी.

आशंका

इसके बाद विस्फोट के साथ नाव में आग लग गई.

अंधेरा, ख़राब मौसम और आंधी की वजह से नाव और उसपर सवार लोगों को ना ही बचाया जा सका और ना ही वे पकड़ में आए. नाव जलकर वहीं पर डूब गई. कोस्ट गार्ड के जहाज़ और विमान लगातार इस क्षेत्र में संभावित जीवितों की तलाश में लगे हुए हैं.

कोस्ट गार्ड और अन्य सुरक्षा एजेंसियां पिछले दो महीने से तटीय क्षेत्रों और समुद्र में मिल रहे आशंकाओं के मद्देनज़र सतर्कता बरती हुई थीं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार