प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

क्या सेंसर बोर्ड की ज़रूरत है?

फ़िल्म सेंसर बोर्ड में राजनीतिक दख़लअंदाज़ी के आरोप, बोर्ड प्रमुख लीला सैमसन का इस्तीफ़ा. धर्म गुरु गुरमीत राम रहीम की फ़िल्म "मैसेंजर ऑफ गॉड" को लेकर विवाद भड़का.

क्या वाक़ई फ़िल्मों को पास करने में राजनीतिक दख़ल दिया जाता है? आख़िर सेंसर बोर्ड की ज़रूरत है भी या नहीं? इसी मुद्दे पर हुई इंडिया बोल में बहस.

इंडिया बोल में शामिल हुए सेंसर बोर्ड एडवाइज़री पैनल के वरिष्ठ सदस्य प्रेम रतन शर्मा और कश्मीर पर एक विवादित डॉक्यूमेंट्री बनाने वाले फ़िल्मकार पंकज बुटालिया.