ओबामा के स्वागत के लिए तैयार भारत

भारत के लिए रवाना होते हुए ओबामा दंपति इमेज कॉपीरइट AP

भारत के तीन दिवसीय दौरे के पहले दिन से ही अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा का व्यस्त कार्यक्रम रहेगा. ओबामा का विशेष विमान एयरफ़ोर्स वन भारतीय समयानुसार क़रीब 10 बजे दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के टेक्निकल एरिया में उतरेगा.

दिल्ली के सरदार पटेल मार्ग स्थित दो पांच सितारा होटल मौर्य शेराटन और ताज महल में ठहरने का इंतज़ाम है. सुरक्षा कारणों से ये सार्वजनिक नहीं किया गया है कि वो किस होटल में रुकेंगे.

दोपहर 12 बजे भारत के राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी उनका राष्ट्रपति भवन में औपचारिक रूप से स्वागत करेंगे जिसके बाद ओबामा राजघाट जाकर महात्मा गांधी की समाधि पर श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे और पेड़ लगाएंगे.

राजघाट के बाद ओबामा हैदराबाद हाउस जाएंगे जहाँ पहले तो वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ दोपहर का भोजन करेंगे. हैदराबाद हाउस में ही दोनों देशों के बीच बैठकों का दौर चलेगा और दोनों नेता यहाँ पर संयुक्त रूप से सम्बोधित करेंगे.

इमेज कॉपीरइट EPA

शाम के वक़्त अमरीकी राष्ट्रपति अपने होटल में दूतावास के अधिकारियों और उनके परिवारवालों के साथ समय बिताएंगे.

देर शाम राष्ट्रपति प्रणव मुख़र्जी ने ओबामा दंपति के सम्मान में राष्ट्रपति भवन में रात्रि भोज का आयोजन किया है.

दिल्ली में उत्साह

ओबामा के दौरे को लेकर दिल्लीवासियों में काफ़ी उत्साह है. लोगों का कहना है कि गणतंत्र दिवस समारोह में अमरीकी राष्ट्रपति की पहली बार शिरकत इस बात का संकेत है कि अब भारत दुनिया की बड़ी ताक़तों से आँख से आँख मिलाकर बात करने की हैसियत रखने लगा है.

कुछ लोगों का कहना था कि जब पूरा विश्व आर्थिक संकट के दौर से जूझ रहा है, वहीं भारत में विकास की दर तेज़ी पकड़ रही है.

इमेज कॉपीरइट PTI

जहाँ आम तौर पर बराक ओबामा के दौरे को लेकर उत्साह है तो वही कुछ ऐसे भी हैं जिन्हे लगता है कि उनके इस दौरे का ज़्यादा लाभ अमरीका को मिलेगा न कि भारत को.

ज़ाहिर सी बात है कि वो पहले अमरीकी राष्ट्रपति हैं जो गणतंत्र दिवस समारोह में बतौर अतिथि शामिल हो रहे हैं. और वो भी यह पहला मौक़ा है जब अमरीकी राष्ट्रपति इतनी देर तक किसी आउटडोर आयोजन में शिरकत कर रहे हैं.

पिछली बार ओबामा ने आउटडोर हुए अपने शपथ ग्रहण समारोह में क़रीब 40 मिनट बिताए थे जबकि राजपथ पर गणतंत्र दिवस समारोह दो घंटों तक चलेगा.

ताज नहीं देख पाएंगे

इमेज कॉपीरइट AFP

हालांकि 27 जनवरी को ओबामा दंपति को ताज महल देखने आगरा जाना था. मगर शनिवार को उनके कार्यक्रम में फेरबदल किया गया है.

व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जोश अर्नेस्ट द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि राष्ट्रपति ओबामा को ताज महल नहीं जा पाने का खेद है.

उनका कहना था कि सऊदी अरब के शाह अब्दुल्लाह के निधन के बाद ओबामा नए शाह सलमान और सऊदी अरब से मिलकर उन्हें सांत्वना देना चाहते हैं.

ओबामा के दौरे को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतज़ाम किए गए हैं और जिन जगहों पर अमरीकी राष्ट्रपति को जाना है उन्हें छावनी में बदल दिया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार