मशहूर कार्टूनिस्ट आरके लक्ष्मण का निधन

लक्ष्मण का कार्टून कॉमन मैन आम आदमी का प्रतीक बन चुका है इमेज कॉपीरइट PTI

भारत के मशहूर कार्टूनिस्ट आरके लक्ष्मण का 94 वर्ष की उम्र में पुणे में निधन हो गया.

वे हफ़्ते भर से भी ज्यादा समय से दीनानाथ मंगेशकर अस्पताल में भर्ती थे. अस्पताल के अधिकारियों ने उनके निधन की पुष्टि की है.

लक्ष्मण को संक्रमण के बाद इंटेसिव केअर यूनिट में भर्ती कराया गया था.

दिल के मरीज़ लक्ष्मण के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था.

लक्ष्मण अपने कार्टून चरित्र ''कॉमन मैन' यानी आम आदमी के लिए मशहूर थे. यह कार्टून आम आदमी की आकांक्षाओं और उसकी सोच को तो दर्शाता है ही, राजनीतिक हस्तियों पर कटाक्ष भी करता है.

इमेज कॉपीरइट AFP

यह कार्टून वर्ष 1951 से ही भारत के जाने-माने अंग्रेजी अख़बार टाइम्स ऑफ़ इंडिया के पहले पेज पर 'यू सेड इट' शीर्षक के साथ छपता आया है.

सरकार ने आरके लक्ष्मण को 2005 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया था. डाक विभाग ने ''कॉमन मैन' पर 1988 में एक टिकट भी जारी किया था.

पुणे में 2001 में ''कॉमन मैन' की आठ फ़ीट की एक प्रतिमा लगाई गई थी.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक वर्ष 2010 में लक्ष्मण को स्ट्रोक हुआ था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार