जिनपर 'आप' की लहर का भी असर नहीं

दिल्ली चुनाव इमेज कॉपीरइट EPA

दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी की जीत को 'लहर' कहा जा रहा है, लेकिन इस लहर में भी कुछ दिल्लीवासियों को कोई भी दल पसंद नहीं आया.

भारतीय चुनाव आयोग के मुताबिक़, इस चुनाव में बहुजन समाज पार्टी, इंडियन नेशनल लोक दल और शिरोमणि अकाली दल जैसी पुरानी पार्टियों के मुक़ाबले कुछ हज़ार ही कम वोट मिले.

आयोग की वेबसाइट के अनुसार, इस चुनाव में नोटा पर कुल 35 हज़ार 924 वोट पड़े. यह कुल मतदान का 0.4 प्रतिशत है.

सबसे अधिक नोटा पर वोट पड़ा मटियाला में जहां 1102 वोटरों ने नोटा का बटन दबाया.

जबकि नोटा पर सबसे कम वोट पड़ा मटिया महल में. यहां नोटा 203 लोगों की पसंद बना.

राजनीतिक दल

इमेज कॉपीरइट Getty

शिरोमणि अकाली दल को नोटा से थोड़ा ही ज़्यादा यानी 44 हज़ार 880 वोट (0.5 प्रतिशत) मिले.

इंडियन नेशनल लोकदल को 54 हज़ार 464 वोट यानी 0.6 प्रतिशत वोट मिले.

इस चुनाव में कांग्रेस की तरह ही बसपा को भी काफ़ी नुक़सान उठना पड़ा और उसे एक लाख 17 हज़ार 124 वोट (1.3 प्रतिशत) मिले.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार