भारत-श्रीलंका वार्ता की 6 ख़ास बातें

नरेंद्र मोदी, मैथ्रिपाला सिरिसेना इमेज कॉपीरइट AFP

भारत और श्रीलंका ने असैन्य परमाणु समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं.

पिछले महीने चुनाव जीतने के बाद पहले विदेश दौरे पर भारत आए श्रीलंका के राष्ट्रपति मैथ्रिपाला सिरिसेना ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अहम वार्ता की है.

सिरिसेना चार दिनों की भारत यात्रा पर हैं.

भारत-श्रीलंका वार्ता की 6 बातें

  • प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उनके और राष्ट्रपति सिरिसेना के बीच द्विपक्षीय मुद्दों और अंतरराष्ट्रीय मामलों पर अच्छी चर्चा हुई. मोदी ने कहा कि उन्हें इस बात पर ख़ुशी है कि भारत श्रीलंका का सब से बड़ा व्यापारिक भागीदार है.
    इमेज कॉपीरइट AP
  • दोनों नेताओं ने अपनी मुलाक़ात में पारंपरिक और अक्षय ऊर्जा दोनों क्षेत्र में सहयोग के विस्तार पर चर्चा की.

  • दोनों ने श्रीलंका और भारत के बीच हवाई और समुद्री संपर्क में सुधार पर विचार किया. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि राष्ट्रपति सिरिसेना और वह दोनों देशों के मछुआरों के मुद्दे को सर्वोच्च महत्व देते हैं और कहा कि जल्द ही दोनों पक्षों के मछुआरों के संघों को संबोधित करेंगे.

  • प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उन्होंने राष्ट्रपति का मार्च में श्रीलंका यात्रा का न्यौता स्वीकार कर लिया है. दोनों नेताओं के बीच वार्ता चार ख़ास मुद्दों पर हुई. भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सैयद अकबरुद्दीन के अनुसार जिन चार क्षेत्रों में समझौते पर बातचीत हुई है वह हैं आर्थिक, असैन्य परमाणु सहयोग, संस्कृति और कृषि.
  • अकबरूद्दीन ने कहा कि द्वीप राष्ट्र में शांति और सुलह की प्रक्रिया के मुद्दे पर भी प्रधानमंत्री के दिए एक कार्य-भोज पर बैठक के दौरान चर्चा की गई.
इमेज कॉपीरइट EPA

सिरिसेना ने पिछले महीने चुनाव में महिंदा राजपक्षे को हराया था. राजपक्षे का झुकाव चीन की तरफ अधिक माना जाा था, जिससे भारत को चिंता थी. ऐसे में श्रीलंका को लेकर भारत में नाराज़गी का माहौल पनप रहा था.

राष्ट्रपति पद संभालने के एक महीने के बाद मोदी का न्यौता स्वीकार करके सिरिसेना ने दिखाया कि वह दोनों देशों के रिश्तों को वापस पटरी पर लाने के लिए इच्छुक हैं.

एक क्षेत्रीय ताक़त के तौर पर भारत निश्चित रूप से इस क्षेत्र में किसी और देश की मौजूदगी नहीं देखना चाहता.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार