पाकिस्तानी नौका: अधिकारी को शो कॉज़ नोटिस

भारतीय कोस्ट गॉर्ड इमेज कॉपीरइट indian coast guard

अरब सागर में भारतीय तट के पास 31 दिसंबर की रात को एक पाकिस्तानी नौका में हुए धमाके का मामला पेचीदा और विवादास्पद होता जा रहा है.

इंडियन एक्सप्रेस में छपी एक ख़बर के बाद भारतीय कोस्ट गार्ड ने एक प्रेस रिलीज़ में कहा है कि नौका के बारे में विवादित बयान देने वाले अधिकारी को शो कॉज़ नोटिस भेजा गया है.

विवाद इंडियन एक्सप्रेस में छपी ख़बर के बाद शुरू हुआ. अख़बार का दावा है कि भारतीय कोस्ट गॉर्ड के एक डीआईजी ने एक मीटिंग में नौका को नष्ट करने का दावा किया था.

उधर भारत के रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि भारत अपने पुराने बयान पर कायम है, जिसके मुताबिक संभवत: नौका कोई ग़ैर-कानूनी कार्रवाई की योजना बना रही थी और पकड़े जाने पर उसमें सवार लोगों ने ख़ुद ही नौका में विस्फोट कर लिया.

लेकिन उस समय ही पाकिस्तान सरकार ने ऐसी संभावना से इनकार किया था. भारतीय मीडिया के कुछ हलकों में भी इस ख़बर पर विवाद हुआ था.

पीटीआई के मुताबिक डीआईजी के कथित बयान पर रक्षा मंत्री पर्रिकर ने कहा, "डीआईजी का बयान अनुशासनहीनता का मामला है. हम इसकी जाँच करेंगे और कार्रवाई करेंगे."

इसके बाद जब डीआईजी की ओर से इस दावे का खंडन आया, तो इंडियन एक्सप्रेस ने अपने ट्विटर और वेबसाइट पर डीआईजी के भाषण का वीडियो लगा दिया जिसमें वो ऐसा दावा करते हुए दिखते हैं.

हालाँकि बीबीसी ने वीडियो की प्रमाणिकता की कोई स्वतंत्र पुष्टि नहीं की है.

भारत सरकार के अनुसार विस्फोट के बाद नौका में सवार चार लोग नौका के साथ ही डूब गए थे.

पाकिस्तानी मीडिया में उठा मुद्दा

इमेज कॉपीरइट Indian Coast Guard
Image caption भारतीय कोस्ट गॉर्ड ने घटना के समय यह तस्वीर जारी की थी.

पाकिस्तानी नौका से जुड़ी ख़बर पाकिस्तानी मीडिया में बुधवार को छाई रही.

पाकिस्तानी टीवी चैनल जियो टीवी ने कहा कि 'इससे भारत के झूठ का पर्दाफ़ाश' हो गया है.

सरकारी टीवी चैनल पीटीवी वर्ल्ड न्यूज़ ने इसे सुर्खी बनाते हुए कहा, ''भारतीय कोस्ट गार्ड के डीआईजी ने पाकिस्तान की मछली मारने वाली नौका में विस्फोट करना स्वीकार किया है.''

वहीं पाकिस्तान के डी न्यूज़ ने कहा, ''ख़बरों के मुताबिक़ भारतीय कोस्ट गॉर्ड ने पाकिस्तानी नौका को उड़ाने की बात स्वीकार कर ली है.''

पाकिस्तान के अंग्रेज़ी अख़बार डॉन ने लिखा, ''भारतीय कोस्ट गाॉड के अधिकारियों ने पाकिस्तानी नौका को डुबोने की बात स्वीकारी."

सोशल मीडिया पर भी इस मुद्दे पर विवाद हो रहा है.

बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार