अन्ना: माओवादियों से संपर्क होगा

ज़मीन के लिए आंदोलन में सबको साथ लेकर चलने को तैयार अन्ना इमेज कॉपीरइट AFP

गांधीवादी आंदोलनकारी अन्ना हज़ारे ने कहा है कि किसानों की ज़मीन बचाने के लिए चल रहे आंदोलन में वे माओवादियों का समर्थन भी ले सकते हैं.

बीबीसी से ख़ास बातचीत में उन्होंने कहा कि किसानों की ज़मीन जिस तरह से हड़पी जा रही है, उसके ख़िलाफ़ देशव्यापी आंदोलन की ज़रूरत है.

अन्ना हज़ारे से हुई बातचीत सुनने के लिए यहां क्लिक करें.

सबको लेकर चलने को तैयार अन्ना

इमेज कॉपीरइट PTI

ज़मीन के अधिकार के लिए शुरू हो चुके आंदोलन में सभी तरह के लोग और कई तरह के संगठन शामिल हैं. इनमें अरुणा राय और मेधा पाटकर भी शामिल हैं.

अन्ना ने कहा, "यह मामला किसानों की ज़मीन से जुड़ा हुआ है. सभी धाराओं के लोगों को इसमें शामिल करने की ज़रूरत है. इसमें माओवादी भी आ सकते हैं."

उन्होंने कहा कि आंदोलन में हर तरह के लोगों को शामिल किया जा सकता है. यदि माओवादी भी इसमें शामिल होना चाहें तो उन्हें भी साथ लिया जा सकता है.

अन्ना ने इसे साफ़ करते हुए कहा, "सारे लोग मिल बैठ कर बात करेंगे. यदि माओवादियों को शामिल करने पर सहमति बन गई तो हम उन्हें भी अपने साथ शामिल कर लेंगे."

उन्होंने इसके साथ यह भी जोड़ा कि इस पर कोई अंतिम फ़ैसला अभी नहीं लिया गया है. सभी लोग साथ बैठ कर तमाम मुद्दों पर विचार करेंगे. अन्ना ने कहा ''सभी लोग चाहें तो माओवादियों से समर्थन लेने में कई दिक्कत नहीं है.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार