दीमापुर: संदिग्ध बलात्कारी की पीटकर हत्या

इमेज कॉपीरइट AFP

नगालैंड में क़रीब दस हज़ार लोगों की एक भीड़ ने बलात्कार के एक अभियुक्त को पीट-पीटकर मार डाला और बाद में उसकी लाश को शहर के चौराहे पर फांसी से लटका दिया.

सूबे के पुलिस महानिदेशक एलएल डूंगर ने बीबीसी संवाददाता अभिताभ भट्टासाली को बताया कि गुरुवार दोपहर बाद एक बड़ी भीड़ दीमापुर सेंट्रल जेल जा पहुंची और उन्होंने जेल के लोहे के दरवाज़ों को तोड़ डाला.

डूंगर ने बताया कि भीड़ में से कुछ लोग सेल में बंद फ़रीद ख़ान को खींचकर बाहर ले आए और उस पर हमला करने लगे.

फ़रीद ख़ान के भाई नासिर ख़ान ने बीबीसी से कहा कि बलात्कार का आरोप लगाने वाली महिला फ़रीद खान की साली थी और वो उन्हें ब्लैकमेल कर रही थीं.

फ़रवरी का मामला

फ़रीद ख़ान का ताल्लुक़ असम से था और उन्हें एक नागा महिला के बलात्कार के आरोप में गिरफ़्तार किया गया था.

कथित बलात्कार की घटना 23 फ़रवरी की है जिसके बाद असम के इस व्यापारी को गिरफ़्तार किया गया था.

पुलिस ने हालांकि ख़ान को चौराहे पर लटकाने की पुष्टि नहीं की है. पुलिस का कहना था कि संदिग्ध बलात्कारी की मौत जेल प्रांगण में ही हो गई थी.

शहर दीमापुर में बुधवार से ही नगा महिला के बलात्कार की घटना को लेकर भारी ग़ुस्सा और रोष था और उस दिन शहर में विरोध प्रदर्शन भी हुए. तब लोगों ने कुछ वाहनों को आग भी लगा दी थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)