भू-अधिग्रहण बिल के ख़िलाफ़ नीतीश का उपवास

केंद्र सरकार के भूमि अधिग्रहण (संशोधन) विधेयक का विरोध करने के लिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक दिन का उपवास रखा है.

वे राजधानी पटना स्थित जनता दल (यूनाइटेड) के प्रदेश मुख्यालय पर कुछ दूसरे नेताओं के साथ शनिवार सुबह से 24 घंटे के उपवास पर बैठे हुए हैं.

बिहार के सत्ताधारी दल ने भूमि विधेयक के ख़िलाफ़ पूरे राज्य में अपने कार्यकर्ताओं से शनिवार को उपवास रखने को कहा है.

पार्टी के नेता और कार्यकर्ता प्रदेश मुख्यालय पर 24 घंटे के और ज़िला और प्रखंड दफ़्तरों पर 12 घंटे के उपवास पर हैं.

रविवार को राजद का मार्च

इमेज कॉपीरइट AFP

जनता दल यूनाइटेड के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह के मुताबिक़, मौजूदा भूमि विधेयक काॅरपोरेट घरानों को खुश करने के लिए बनाया गया है. इससे किसानों की खेती लायक ज़मीन भी जबरन ले ली जाएगी.

दूसरी ओर जद (यू) की सहयोगी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल ने केंद्र सरकार की किसान विरोधी नीतियों के विरोध में रविवार को राजभवन तक मार्च निकालने का फ़ैसला किया है.

राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव इस मार्च में भाग लेने के लिए शुक्रवार को ही पटना पहुंच गए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार