फ़्लिपकार्ट का एअरटेल से क़रार नहीं

फ़्लिपकार्ट इमेज कॉपीरइट FLIPCART.COM

‘नेट न्यूट्रैलिटी’ का मुद्दा सोशल मीडिया पर छाया हुआ है और हज़ारों लोग इससे जुड़ रहे हैं.

ट्विटर पर ‘ #NetNeutrality’ आज सोमवार से ही ट्रेंड कर रहा है. इसके अलावा फ़ेसबुक पर भी ढेर सारे लोग प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं. कई लोगों ने फ़ेसबुक पर वीडियो अपलोड किया है और ग्राफ़िक्स लगाया है.

इस विवाद के बीच, ऑनलाइन रीटेल की देश की सबसे बड़ी कंपनी फ़्लिपकार्ट ने एअरटेल के साथ अपना क़रार खत्म कर दिया है.

फ़्लिपकार्ट ने एअरटेल के साथ एक क़रार किया था. इसके मुताबिक़, एअरटेल के स्मार्टफ़ोन पर ग्राहक फ़्लिपकार्ट की साइट मुफ़्त देख सकते थे.

इस क़रार की यह कह कर आलोचना की गई थी कि यह 'नेट न्यूट्रलिटी' के सिद्धांत का उल्लंघन है.

‘नेट न्यूट्रैलिटी’ का मतलब है इंटरनेट सेवा देने वाली कंपनी और सरकार सभी डाटा के साथ समान व्यवहार करेगी और कंटेट, साइट, प्लेटफॉर्म, एप्लीकेशन, उपकरण के आधार पर किसी तरह का भेद भाव नहीं किया जाएगा.

अपील

इमेज कॉपीरइट PTI

आम आदमी पार्टी ने ‘नेट न्यूट्रैलिटी’ के लिए अपनी प्रतिबद्धता जताई है. अरविंद केजरीवाल ने अपने फ़ेसबुक पेज पर कहा है कि उनकी पार्टी इसके लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है और पर बहस के पक्ष में है.

संगीतकार विशाल डडलानी ने बताया है कि ‘नेट न्यूट्रैलिटी’ क्या है और क्यों ज़रूरी है.

‘एआईबी’ ने फ़ेसबुक पर एक वीडियो पोस्ट किया है, जिसमें लोगों से ‘नेट न्यूट्रैलिटी’ का समर्थन करने की अपील की गई है. 11 अप्रैल 2015 से अब तक इसे लगभग 15 लाख लोगों ने देखा है.

‘नेट न्यूट्रैलिटी’ से जुड़े कई हैशटैग चल रहे हैं. #सेवदीइंटरनेट, #इंडियावांट्सनेटन्यूट्रैलिटी, #वाइबनेट और दूसरे कई हैशटैग चल रहे हैं और सब पर लोग जुड़ रहे हैं.

टीवीएफ क्यूटियापा ने फ़ेसबुक पर लोगों से अपील की है कि वे ‘नेट न्यूट्रैलिटी’ के लिए पीटीशन दें.

नियमों के ख़िलाफ़

इमेज कॉपीरइट AFP

गैलक्सी रिपोर्टर ने कहा है, “हमने देश के आम आदमी की ओर से ट्राई के नाम एक चिट्ठी लिखी है.”

नेट न्यूट्रैलिटी नाउ ने ई-कॉमर्स के क्षेत्र की दो बड़ी कंपनियों पर आरोप लगाया है कि उन्होंने एक बड़ी दूरसंचार कंपनी से क़रार किया है और यह पूरी तरह नियमों के ख़िलाफ़ है.

आईआईटी खड़गपुर की उद्यमिता प्रकोष्ठ ने फ़ेसबुक पर कहा है कि यदि अभी ही कुछ नहीं किया गया तो इंटरनेट बर्बाद हो जाएगा. इसने लोगों के नेट न्यूट्रैलिटी का समर्थन करने की अपील भी की है.

समर्थन

इमेज कॉपीरइट Getty

व्हाटफ़िक्स ने बताया है कि ‘नेटन्यूट्रैलिटी’ को वोट कैसे दिया जाए और क्या किया जाए.

कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह न ट्वीट कर कहा है कि देश को ‘नेट न्यूट्रैलिटी’ की ज़रूरत है. उन्होंने लिखा है, “मैंने राज्यसभा में इस मुद्दे पर सरकार से प्रश्न पूछा है.”

उमर अब्दुल्ला ने उम्मीद जताई है कि उन्हें ‘नेट न्यूट्रैलिटी’ पर जल्दी ही अच्छी ख़बर मिलेगी.

कांग्रेस के दिल्ली प्रभारी अजय माकन ने कहा कि पार्टी उपभोक्ता के अधिकारों के साथ है और अगर ट्राई का फ़ैसला इसके ख़िलाफ़ आता है तो कांग्रेस संसद से सड़क पर इसका विरोध करेगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार