बादल ने कहा- मेरी बस, पुलिस में कशमकश

पीड़िता की मां इमेज कॉपीरइट Ravinder Singh Robin

पंजाब के मोगा में कथित छेड़खानी का विरोध करने पर एक 14 साल की लड़की और उसकी मां को चलती बस से फेंकने का मामला सामने आया है.

इस घटना में बच्ची की मौत हो गई जबकि मां का अस्पताल में इलाज जारी है.

पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष प्रताप सिंह बाजवा ने केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल के इस्तीफे की मांग की है. लेकिन पुलिस ने इस मामले में मालिक की जानकारी होने से मना किया है.

बाजवा ने धारा 304ए के तहत ऑर्बिट ट्रांसपोर्ट कंपनी के मालिक पर केस दर्ज करने और लाइसेंस रद्द करने की मांग की है.

ऑर्बिट ट्रांसपोर्ट कंपनी मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की है.

इमेज कॉपीरइट Ravinder Singh Robin

बीबीसी से बात करते हुए बाजवा ने कहा पंजाब में महिलाओं की सुरक्षा खतरे में है. उन्होंने मुख्यमंत्री से इस घटना की ज़िम्मेदारी लेते हुए इस्तीफा देने की मांग की है.

बुधवार को पंजाब के मोगा ज़िले में ऑर्बिट बस में मां-बेटी कथित तौर पर छेड़खानी का विरोध कर रही थीं जब उन्हें बस से बाहर फेंक दिया गया.

बेटी की मौके पर ही मौत हो गई जबकि मां का इलाज अस्पताल में चल रहा है.

मुुख्यमंत्री ने माना

इमेज कॉपीरइट Ravinder Singh Robin

प्रताप सिंह बाजवा के अनुसार यह दर्भाग्यपूर्ण है कि केंद्र मंत्री हरसिमरत कौर बादल के परिवार में यह घटना हुई है. उन्होंने कहा कि हरसिमरत कौर युवा लड़कियों की सुरक्षा के लिए एक एनजी ओ भी चलातीं हैं और उन्हें ज़िम्मदारी लेते हुए इस्तीफा दे देना चाहिए.

मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने मोगा घटना की निंदा की है और माना है कि दुर्घटना होने वाली बस उनके परिवार की है. उन्होंने कहा कि यह "दुर्भाग्यपूर्ण घटना" है.

बादल ने कहा कि इस मामले में दोषी सभी लोगों को सज़ा दी जाएगी.

पुलिस अनजान

इमेज कॉपीरइट Ravinder Singh Robin

पुलिस महानिदेशक सुमेध सैनी ने बताया कि पुलिस ने बस के ड्राइवर रंजीत सिंह, कंडक्टर सुरविंदर सिंह और हेल्पर गुरदीप सिंह को गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस के अनुसार एक और व्यक्ति अमरजीत सिंह की पहचान की गई है औऱ उसे भी जल्द गिरफ़्तार किया जाएगा.

भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 302, 307, 354 के तहत इन लोगों पर मामला दर्ज किया गया है.

लेकिन सैनी ने जिस बस में यह घटना हुई उस बस कंपनी के मालिक के बारे में जानकरी होने से इनकार किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार