पाकिस्तान में ट्रेंड कर रही है सलमान की सज़ा

सलमान ख़ान, फ़िल्म अभिनेता इमेज कॉपीरइट AFP

सलमान खान को 2002 के 'हिट एंड रन' मामले में सज़ा दिए जाने पर ट्विटर पर काफ़ी प्रतिक्रियाएँ देखने को मिल रही हैं.

भारत ही नहीं, पडोसी देश पाकिस्तान में भी #salmanverdict सबसे ऊपर ट्रेंड करता रहा.

इन्साफ़ की जीत?

इमेज कॉपीरइट AFP

कुछ लोग इस फ़ैसले पर उदास हैं तो कुछ दूसरे यूज़र्स का मानना है कि यह इंसाफ़ की जीत है.

पाकिस्तान से आयशा अबूबकर लिखती है, "अगर सलमान गुनहगार हैं तो उसे सज़ा मिलनी ही चाहिए. लेकिन मैं उनके लिए उदास हूँ".

वहीं, गिरीश जौहर ने फ़ैसले को 'दुखद ख़बर' बताया.

'सलमान भाग्यशाली'

इमेज कॉपीरइट AP

पाकिस्तान के समा टीवी के पत्रकार नदीम मालिक कहते हैं, "सलमान भाग्यशाली हैं कि इस मुश्किल घड़ी में उनके पिता सलीम उनके साथ हैं."

गायिका फीफा हारुन ने इस फैसले पर दुख जताया है, लेकिन कहती हैं कि "इंसाफ़ ज़रूरी है."

भारत के नितेश केशरी ने सलमान की लोकप्रिय फिल्मों के नामों का इस्तेमाल करते हुए उनका मज़ाक उड़ाया है.

'दबंग को किक'

इमेज कॉपीरइट agency

उन्होंने ट्वीट किया है, "अदालत एक वांटेड दबंग टाइगर को किक करने वाली है. जय हो भारतीय अदालत की"

कुछ ट्विटर यूज़र्स सलमानके मानवीय कार्यों की वजह से उनको कम सज़ा दिए जाने के तर्क पर भी गुस्सा ज़ाहिर कर रहे हैं.

'नेताओं को सज़ा कब?'

इमेज कॉपीरइट Arbaaz Khan

"RAMbunctious!" नामक हैंडल से किए गए एक ट्वीट का कहना है कि मानवीय कार्य किसी की मौत की भरपाई कैसे कर सकते हैं?

"मानवीय कार्य किसी को मारने को कैसे कवर अप कर सकता है? मुझे बताएं", उन्होंने लिखा.

वहीँ, भोपाल से शरीक निआज़ी पूछते हैं, "दोषी नेताओं को अपने गुनाहों की सज़ा कब मिलेगी"?

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

(बीबीसी मॉनिटरिंग दुनिया भर के टीवी, रेडियो, वेब और प्रिंट माध्यमों में प्रकाशित होने वाली ख़बरों पर रिपोर्टिंग और विश्लेषण करता है. आप बीबीसी मॉनिटरिंग की खबरें ट्विटर और फ़ेसबुक पर भी पढ़ सकते हैं.)

संबंधित समाचार