BBC Hindi
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

बीबीसी हिंदी, 75 पर नॉटआउट

पचहत्तर साल पहले खरखराते और भारी-भरकम रेडियो सेट पर आज ही के दिन बीबीसी हिंदुस्तानी का प्रसारण शुरू हुआ था.

75 सालों के दौरान बहुत-सी दुनिया बदली आप भी बदले और बीबीसी भी.

लेकिन विश्वसनीयता वह बारीक़ और मज़बूत डोर है जिसने इस पूरे सफ़र में हमें और आपको जोड़े रखा.

हम चार या पाँच पीढ़ियों पहले आपके पास भारत और दुनिया भर की ख़बरें लेकर आते थे, आगे भी लाते रहेंगे. अधिक तत्परता, अधिक विश्वास, अधिक ज़िम्मेदारी के साथ. सलीक़े से सहेज कर. और दिलचस्प. और उपयोगी. आपको केंद्र में रखते हुए.

आइए! बीबीसी की 75वीं सालगिरह इसके इतिहास के कुछ पुराने पन्ने पलटे जाएं.

सुनिए रेहान फज़ल की ये विशेष प्रस्तुति.