मोदी ने किया भारत का 'अपमान'?

नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट BBC World Service

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चीन और दक्षिण कोरिया में भारतीयों पर की टिप्पणियों की ट्विटर पर तीखी आलोचना हो रही है.

दक्षिण कोरिया में अप्रवासी भारतीयों को संबोधित करते हुए नरेंद्र मोदी ने कहा था कि, "पहले लोग भारतीय होने पर शर्म करते थे लेकिन अब आपको देश का प्रतिनिधित्व करते हुए गर्व होता है. पिछले साल विदेशों में रहे सभी भारतीयों ने सरकार के बदलने की उम्मीद की थी."

ट्विटर पर लोग नरेंद्र मोदी के इसी बयान को भारत का अपमान बता रहे हैं.

मंगलवार सुबह से ही #ModiInsultsIndia (मोदी ने भारत का अपमान किया) ट्रेंड कर रहा है.

इमेज कॉपीरइट PMOIndia
Image caption मंगोलिया में मोदी

कुछ चुनिंदा टिप्पणियां

फ़हद ने ट्वीट किया, "इक़बाल ने 'सारे जहाँ से अच्छा...' 16 मई 2014 के बाद के लिए ही लिखा था. दुष्ट कांग्रेसियों ने इसका इस्तेमाल स्वतंत्रता आंदोलन में ही कर लिया."

सचित सेठ ने लिखा, "भले ही हमारे देश में गोडसे, सावरकर, हेडगेवर, गोलवलकर जैसे लोग थे लेकिन फिर भी मुझे भारतीय होने पर शर्म नहीं है."

सचिन ने ही एक और ट्वीट किया, "एक बार जब अटल बिहारी वाजपेयी से विदेशी धरती पर कांग्रेस के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा था कि इस बारे में मैं सिर्फ़ भारत में ही बोलूंगा."

कांग्रस प्रवक्ता संजय झा ने ट्वीट किया, "माफ़ करना भक्तों, आपने बहुत मेहनत की, लेकिन तुम्हारे छोटी सोच वाला स्तरहीन नेता सत्य के अजेय रथ को नहीं रोक सकता."

इमेज कॉपीरइट PIB
Image caption चीन में मोदी

पहले प्रधानमंत्री!

स्कॉची शास्त्री ने ट्वीट किया, "पहले प्रधानमंत्री जिन्होंने सार्वजनिक रूप से स्वीकार किया कि वो भारतीय होने पर शर्मिंदा हैं. हमें मोदी जी पर गर्व है."

जोगिंदर रावत ने ट्वीट किया, "मोदी पहले प्रधानमंत्री हैं जो विदेशी धरती पर भारतीय होते हए शर्म महसूस कर रहे हैं. जो भारतीय हैं उन्हें हमेशा भारतीय होने पर गर्व होता है."

आम जनता नाम के अकाउंट से ट्वीट किया गया, "मोदी जी मुझे भारतीय होने पर गर्व है, आप प्रधानमंत्री हों या ना हों."

इस ट्रेंड के अंतर्गत किए गए ज़्यादातर ट्वीट में लोगों ने यह भावना जताई हालांकि मोदी के बचाव में भी ख़ूब ट्वीट किए जा रहे हैं.

बीजेपी सांसद और अभिनेता परेश रावल ने लिखा, "अगर भ्रष्टाचार ख़त्म करना, भारत को विश्व शक्ति के रूप में पेश करना और विकास करना बेइज़्ज़ती है तो हाँ मोदी ने भारत की बेइज़्ज़ती की."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार