क्या करें बढ़ती गर्मी से बचने के लिए

इमेज कॉपीरइट Getty

अचानक से गर्मी बहुत तेज़ी से बढ़ी है. पहले गर्मी धीरे-धीरे बढ़ती थी. मार्च-अप्रैल से गर्मी बढ़नी शुरू होती थी.

इससे होता था कि हमारा शरीर धीरे-धीरे मौसम के हिसाब से व्यवस्थित होता था जबकि इस साल मार्च-अप्रैल में काफ़ी ठंड रही है. बारिश भी हुई है.

अब मई पहुंचते-पहुंचते इतनी तेज़ी से गर्मी बढ़ी है कि बुजुर्ग, औरतें और बच्चों का शरीर गर्मी झेल नहीं पा रहा है.

वैज्ञानिक संस्थानों के रिपोर्ट के मुताबिक़ पाराबैंगनी विकिरण की मात्रा ख़तरे के सीमा से ऊपर चली गई है.

तेलंगाना, आंध्रप्रदेश और दिल्ली में इसकी मात्रा बहुत अधिक हो गई है.

इसकी प्रमुख वजह जलवायु में परिवर्तन है. पिछले छह महीने में मौसम में जो बदलाव आए हैं यह इसी परिवर्तन का नतीजा है.

इमेज कॉपीरइट AP

हमारी जलवायु धीरे-धीरे अप्रत्याशित होती जा रही है.

पिछले सौ साल में धरती का तापमान 0.8 डिग्री सेंटीग्रेड बढ़ा है. इससे दिन और रात का तापमान में वृद्धि होना लाजमी है.

क्या करें गर्मी से बचने के लिए

  • दोपहर के वक्त बाहर ना निकले, सुबह और शाम में काम करे
  • सिर और चेहरे को ढक कर रखे
  • पानी और पानी वाले फल जैसे तरबुजे और खरबुजों का सेवन भरपुर मात्रा में करे ताकि शरीर में पानी की मात्रा का संतुलन बना रहे

( बीबीसी संवाददाता विनीत खरे से बातचीत पर आधारित )

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार