टॉप 10 'अपराधियों' में नरेंद्र मोदी?

नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट AP

भारत के टॉप 10 'अपराधियों' में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम शामिल. चौंकिए मत. गूगल के सर्च इंजन में टॉप 10 इंडियन क्रिमिनल टाइप करने पर नरेंद्र मोदी की तस्वीर आ रही है और इस पर सोशल मीडिया में जमकर वाद-विवाद हो रहा है.

ट्विटर पर ये भारत का टॉप ट्रेंडिंग टॉपिक बना हुआ है. नरेंद्र मोदी के समर्थन में और विरोध में दोनों ही तरह के सुर सुनाई पड़ रहे हैं.

मोदी का 'मज़ाक'

इमेज कॉपीरइट PTI

विपिन यादव @Vipinvinny लिखते हैं, "#Top10Criminals मे नाम आने से कहीं नेताजी अपने आपको विश्व स्तर का नेता ना मानने लगे."

सिकंदर-ए-आज़म (@Sikander_E_Azam) ने लिखा, "दम है तो गूगल को भी बैन करो. जैसे आईआईटी मद्रास के छात्रों को मोदी की आलोचना करने पर बैन किया था."

हशीबा बी अमीन (@HasibaAmin) लिखती हैं, "हम भले ही मोदी जी का इतिहास भूल जाएं. इंटरनेट कभी नहीं भूलेगा."

समर्थन

इमेज कॉपीरइट ATUL CHANDRA

नरेंद्र मोदी का मज़ाक उड़ाने वालों की कमी नहीं है तो उनका समर्थन करने वाले भी कम नहीं है.

दिलचस्प बात ये है कि उनका विरोध करने वाली विपक्षी पार्टी कांग्रेस भी इस मुद्दे पर मोदी के समर्थन में खड़ी दिख रही है.

पार्टी की प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी (@priyankac19) ने ट्वीट किया, "मुझे प्रधानमंत्री के साथ हज़ार गिले शिकवे हो सकते हैं लेकिन उनका नाम टॉप 10 क्रिमिनल में होना कतई गवारा नहीं."

शुजा गांधी ने लिखा, "ये ना सिर्फ़ हमारे लोकप्रिय प्रधानमंत्री की बेइज़्ज़ती है बल्कि हमारी अदालत की भी तौहीन है जिसने उन्हें क्लीन चिट दे दी है."

गीतेश भट्ट(@geeteshbhatt) ने लिखा, "ये बेहद शर्मनाक बात है. ये कोई हंसी-मज़ाक की बात नहीं है."

योगेश वैद्य ने लिखा, "इन्हीं सब वजहों से मैं गूगल पर भरोसा नहीं करता."

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)