गुजरात में मैगी पर महीने भर का प्रतिबंध

मैगी के पैकेट इमेज कॉपीरइट AP

गुजरात सरकार ने कहा है कि मैगी की बिक्री पर राज्य में महीने भर का प्रतिबंध लगाया जा रहा है.

सूबे के स्वास्थ्य मंत्री नितिन पटेल के हवाले से समाचार एजेंसी एएनआई ने कहा है कि सूबे में नेस्ले के प्रोडक्ट पर महीने भर बैन रहेगा.

इससे पहले खाद्य और उपभोक्ता मामलों की मंत्री रामविलास पासवान ने गुरुवार को कहा कि मैगी मामले में जांच रिपोर्ट आने के बाद केंद्र सरकार कार्रवाई करेगी.

पासवान ने नई दिल्ली में संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कई राज्य सरकारों ने मैगी नूडल्स के सैंपल्स की जांच कराई है और कई सैंपल्स में लेड की मात्रा निर्धारित स्तर से अधिक पाई गई है. लेकिन केंद्र सरकार को ऐसी कोई लिखित शिकायत नहीं मिली है.

उन्होंने कहा, "हमने स्वत: संज्ञान लेते हुए इस मामले की जांच खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (एफ़एसएसएआई) को सौंपी है. प्राधिकरण अपनी जांच नेशनल कमीशन को सौंपेगा."

कई जगह फ़ेल

मैगी नूडल्स के सैंपल देशभर में कई जगह 'फ़ेल' हुए हैं. उत्तर प्रदेश सरकार ने मैगी के एक बैच को वापस लेने की कंपनी को हिदायत दी है, जबकि दिल्ली सरकार ने इस पर 15 दिनों का प्रतिबंध लगाया है.

उत्तराखंड सरकार ने भी मैगी पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है.

इसके अलावा सेना की कैंटीन और 'बिग बाज़ार' जैसे कई रिटेल स्टोर्स ने भी मैगी को अपने स्टोर्स से हटा लिया है.

मैगी नूडल्स नेस्ले इंडिया का बड़ा ब्रांड है और पूरे उत्पादन में इसकी हिस्सेदारी लगभग 30 प्रतिशत है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार