इस्लामिक स्टेट पर ओबामा की दो-टूक

इमेज कॉपीरइट AP

राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है कि अमरीका के पास अभी भी इस्लामिक स्टेट से जारी जंग में इराक़ की मदद के लिए एक 'सम्पूर्ण नीति' तैयार नहीं है.

बराक ओबामा इराक़ की उस मुहिम का ज़िक्र कर रहे थे जिसके तहत इराक़ी सेना आईएस के कब्ज़े में गए अपने इलाकों को वापस लेने में प्रयासरत है.

उन्होंने कहा, "हमारे पास अभी भी एक सम्पूर्ण नीति नहीं है क्योंकि उसके लिए इराक़ की तरफ से भी सैनिकों को भर्ती और उनकी ट्रेनिंग पर पुख्ता वादे चाहिए होंगे".

हालांकि उन्होंने इस बात पर ज़ोर दिया कि अमरीकी रक्षा मंत्रालय इराक़ी सेना को प्रशिक्षण देने के बारे में विचार कर रहा है.

जर्मनी में हुए जी-7 सम्मेलन के दौरान बराक ओबामा ने इराक़ी प्रधानमंत्री हैदर-अल-अबादी से मुलाक़ात की.

कब्ज़ा

इमेज कॉपीरइट AP

पिछले चंद महीनों के दौरान अमरीकी नेतृत्व में हुए हवाई हमलों के बावजूद आईएस ने जंग में कुछ महत्त्वपूर्ण कब्ज़े किए हैं.

मई महीने में आईएस लड़ाकों ने इराक़ के रमादी शहर पर कब्ज़ा कर लिया था और उसके बाद सीरिया के तादमूर शहर पर भी उनका अधिकार फैल गया.

इस बीच अमरीकी अधिकारियों ने इराक़ी सेना को कई जगह मिली कथित शिकस्त की वजह सैनिकों को पर्याप्त ट्रेनिंग न मिलना बताया था.

इससे पहले ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने कहा था कि उनका देश इराक़ में 125 और सैन्य प्रशिक्षक भेज रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार