मुंबई की 'विक्टोरिया' घोड़ागाड़ी पर बैन

इमेज कॉपीरइट THINKSTOCK

मुंबई हाई कोर्ट ने घोड़ों की मदद से खींची जाने वाली गाड़ियों पर, जिसे आमतौर पर शहर में 'विक्टोरिया' के नाम से बुलाया जाता है, रोक लगाने के हुक्म दिए हैं.

अदालत ने स्थानीय प्रशासन को आदेश दिया है कि वो एक साल के भीतर उनपर पूरी तरह से रोक लगा दे.

कोर्ट का कहना था कि शहर में चलने वाली ये घोड़ा गाड़ियां ग़ैर-क़ानूनी और पशुओं पर होनेवाले अत्याचार को रोकने के लिए बने क़ानून के ख़िलाफ़ हैं इसलिए इनपर रोक लगाई जानी चाहिए.

हिंदी फ़िल्मों के रोमांटिक सीन में

विक्टोरिया गाड़ियां अक्सर हिंदी फ़िल्मों में मशहूर गेटवे ऑफ़ इंडिया के आसपास के इलाक़ों में दौड़ती दिखती थीं. लोग ख़ासतौर पर शाम के वक़्त समुद्र के किनारों पर इसकी सवारी का आनंद लेते हुए भी दिख जाते थे.

अदालत ने यह फ़ैसला पशुओं के अधिकारों के लिए काम करने वाली स्वंयसेवी संस्था पीपल फॉर द एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ ऐनिमल्स की याचिका पर दी.

पेटा का कहना था कि इन गाड़ियों में घोड़ों को जोतने के क्रम में उनपर अत्याचार होता है और अक्सर उनके शरीर पर गंभीर चोटे आती हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार