तो क्या दाऊद की भी मदद करेंगे: कांग्रेस

सुषमा स्वराज इमेज कॉपीरइट AP

ललित मोदी विवाद पर भारतीय जनता पार्टी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के समर्थन में उतर आई है.

सुषमा स्वराज पर ललित मोदी को ट्रैवल डॉक्यूमेंट दिलाने में मदद के आरोप लगे हैं. विपक्षी दलों ने विदेश मंत्री स्वराज के इस्तीफ़े की मांग की है.

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि सुषमा स्वराज ने पूर्व आईपीएल कमिश्नर ललित मोदी को ट्रैवल डॉक्यूमेंट हासिल करने में मदद मानवीय आधार पर की.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक राजनाथ ने कहा, "सुषमा जी ने जो किया वो सही है और मैं इसे सही ठहराता हूं."

भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने सुषमा स्वराज का बचाव करते हुए कहा कि यह क्वात्रोची को विदेश भगाने या भोपाल गैस कांड के अभियुक्त एंडरसन को विदेश जाने की इजाज़त देने जैसा मामला कतई नहीं है.

इमेज कॉपीरइट AFP

अमित शाह ने कहा, ''सुषमा जी ने ब्रिटिश एमपी से इस तरह बात की कि अगर ब्रिटेन के रूल परमिट करते हैं तो आप सहायता करिए, तो मुझे लगता है कि इसमें इतना हो हल्ला करने की ज़रूरत नहीं है.''

'कहा था'

इससे पहले सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर माना कि उन्होंने इस बारे में ब्रितानी उच्चायुक्त से कहा था और प्रमुख ब्रितानी सांसद कीथ वाज़ ने भी उनसे बात की थी.

ललित के लिए उच्चायुक्त से कहा था: सुषमा

हालाँकि सुषमा स्वराज ने कहा है कि उन्होंने मानवीय आधार पर ऐसा किया क्योंकि ललित मोदी का कहना था कि उनकी पत्नी कैंसर की मरीज़ हैं और उन्हें पुर्तगाल जाने की ज़रूरत है.

आईपीएल के पहले कमिश्नर ललित मोदी वित्तीय अनियमतताओं के आरोप झेल रहे हैं और फ़िलहाल ब्रिटेन में निर्वासित जीवन बिता रहे हैं.

वे इन आरोपों को ख़ारिज करते आए हैं.

कांग्रेस: प्रधानमंत्री जवाब दें

कांग्रेस ने प्रेस कॉंफ्रेंस कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष से सुषमा स्वराज के ललित मोदी की मदद करने पर जवाब मांगा है.

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, "प्रधानमंत्री बताएं कि क्या वह देश के हर भगोड़े अपराधी की मानवीय अाधार पर मदद करेंगे. अगर दाऊद इब्राहिम मानवीय आधार पर मदद मांगे तो क्या भारत सरकार उनकी मदद करेगी?"

सुरजेवाला ने यह भी सवाल उठाया कि क्या प्रधानमंत्री को ललित मोदी को मदद किए जाने की जानकारी थी या विदेश मंत्री खुद अपने स्तर पर काम कर रही थीं.

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, "ललित मोदी के बीजेपी नेताओं से संबंध रहे हैं, इसलिए प्रधानमंत्री को यह भी बताना चाहिए कि सरकार में कौन-कौन उनकी मदद कर रहे थे."

इमेज कॉपीरइट VIPUL GUPTA

इससे पहले कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने कहा था, "ये बहुत ही गंभीर बात है कि भारत की विदेश मंत्री ने उसकी मदद की, जो देश के क़ानून का भगोड़ा है."

आप: ये ललित मोदी के अच्छे दिन हैं

आम आदमी पार्टी के नेता राहुल नेहरा ने कहा, "ललित मोदी भाजपा के कई बड़े नेताओं के करीबी हैं और ये उनके 'अच्छे दिन' हैं."

जद (यू): सुषमा सफ़ाई दें

जनता दल यूनाइटे़ड के नेता के सी त्यागी ने कहा कि स्वराज को उन पर लगे आरोपों पर सफ़ाई देनी चाहिए.

राजद: सुषमा को खलनायक न बनाएं, जांच हो

राष्ट्रीय जनता दल के नेता मनोज झा ने बहुत ही नपीतुली प्रतिक्रिया व्यक्त की है. उसमें भी वो सुषमा का बचाव करते हुए नज़र आए हैं.

इमेज कॉपीरइट ANHAD
Image caption वृंदा ने इस मदद को अनैतिक बताया.

उन्होंने कहा कि सुषमा स्वराज जैसी नेता को इतनी जल्दी खलनायक नहीं बनाया जाना चाहिए. मामले की उचित तरीक़े से जांच होनी चाहिए.

सीपीआई: आर्थिक अपराधी की मदद क्यों?

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के नेता डी राजा ने कहा कि स्वराज को इस बात का जवाब देना चाहिए कि उन्हें एक आर्थिक अपराधी की मदद करने की ज़रूरत क्यों पड़ी.

अगर वह संतोषजनक जवाब देने में नाकाम रहती हैं तो उन्हें उस पद पर रहने का अधिकार नहीं है.

सीपीएम: प्रधानमंत्री चुप क्यों हैं?

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी की नेता वृंदा करात ने कहा कि सुषमा स्वराज का ललित मोदी की मदद करना ग़ैर-ज़रूरी और अनैतिक है. उन्होंने सवाल उठाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुप क्यों हैं और इस मामले पर सफ़ाई क्यों नहीं दे रहे हैं?

बसपा: व्यापक जांच हो

इमेज कॉपीरइट PTI

बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने कहा कि इस मामले की व्यापक जांच होनी चाहिए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)