वाघेला पर सीबीआई ने की एफ़आईआर

शंकरसिंह वाघेला, नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption शंकरसिंह वाघेला(बाएँ) और नरेंद्र मोदी

सीबीआई ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेसी नेता शंकरसिंह वाघेला समेत सात लोगों पर 1700 करोड़ रुपए के एनटीसी भूमि घोटाले में एफ़आईआर दर्ज की है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार सीबीआई ने बुधवार को लोगों के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज की है उनमें नैशनल टेक्सटाइल कॉर्पोरेशन(एनटीसी) के तत्कालीन चैयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर भी शामिल हैं.

इन सभी पर मुंबई में एनटीसी की क़ीमती अचल संपत्तियों को निजी कंपनियों को 'कौड़ी के भाव' बेचने का आरोप है.

पीटीआई से शंकरसिंह वाघेला ने कहा है कि उनके ख़िलाफ़ सीबीआई जाँच राजनीतिक बदले की भावना से प्रेरित है.

नौ ठिकानों पर छापा

इमेज कॉपीरइट PTI

पीटीआई के अनुसार एफ़आईआर दर्ज करने के बाद सीबीआई ने नई दिल्ली, गांधीनगर, मुंबई और कोलकाता में नौ ठिकानों पर तलाशी अभियान शुरू कर दिया है.

सीबीआई गुजरात विधान सभा में विपक्ष के नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री वाघेला के निवास की भी तलाशी लेगी.

वाघेला कांग्रेस में शामिल होने से पहले भाजपा के प्रमुख नेता रह चुके हैं.

क़रीब ढाई दशकों बाद उन्होंने भाजपा छोड़कर अपनी अलग पार्टी बनायी थी, जिसका बाद में कांग्रेस में विलय हो गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार