नन से बलात्कार: मुख्य अभियुक्त गिरफ्तार

india_cctv_nun_rape इमेज कॉपीरइट AFP WEST BENGAL POLICE

पश्चिम बंगाल सीआईडी ने नदिया के रानाघाट नन सामूहिक बलात्कार मामले के मुख्य अभियुक्त को गिरफ़्तार कर लिया है

मुख्य अभियुक्त का नाम नज़रुल ऊर्फ नाजू है. पुलिस का दावा है कि नज़रुल ही वो शख्स हैं जिन्होंने 14 मार्च को 72 साल की बुजु़र्ग नन के साथ बलात्कार किया था.

नज़रुल की गिरफ्तारी के साथ ही हिरासत में लिए गए अभियुक्तों की संख्या छह हो गई है.

सीआईडी के एक अधिकारी ने जानकारी दी, “इससे पहले हिरासत में लिए गए सभी पांच अभियुक्तों ने नज़रुल को नन के साथ बलात्कार का दोषी बताया था.”

इमेज कॉपीरइट AFP

पुलिस ने बताया है कि नज़रुल बाकी अन्य अभियुक्तों की तरह ही बांग्लादेशी नागरिक हैं और घटना के बाद भारत से फरार थे.

बुधवार की रात को नज़रुल तब पकड़े गए जब वे सियालदह स्टेशन पर उतरे.

मामला

14 मार्च, 2015 को कुछ लोगों ने कोलकाता से 80 किमी दूर रानाघाट के 'कॉन्वेंट ऑफ जीज़स एंड मैरी' में लूट-पाट की थी.

इमेज कॉपीरइट AP

आरोप है कि 12 लाख लूटने के अलावा उन्होंने 72 साल की बुजर्ग नन के साथ 'सामूहिक बलात्कार' किया.

सीसीटीवी के फ़ुटेज से कुछ संदिग्धों को पहचाना गया. लेकिन शुरुआत में पुलिस सीमा पार से आए उन संदिग्धों में से किसी को भी पकड़ नहीं पाई.

दुनिया भर में इस मामले पर प्रतिक्रिया आने और स्थानीय नागरिकों के विरोध के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ये मामला सीबीआई को सुपुर्द कर दिया.

हालांकि राज्य सीआईडी ने ही घटना वाली रात इलाके में चालू सभी मोबाइल हैंडसेट पर नजर रखने वाले सॉफ़्टवेयर की मदद से अभियुक्तों का पता लगा लिया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार