सुपरस्टार पिताओं के नाकामयाब बच्चे

अमिताभ बच्चन और अभिषेक बच्चन इमेज कॉपीरइट Universal PR

बॉलीवुड में सिक्का जमाने के लिए कोई 'गॉडफ़ादर' होना ज़रूरी माना जाता है.

लेकिन अगर माता-पिता फ़िल्म इंडस्ट्री से हैं तो करियर की राह थोड़ी आसान हो जाती है.

हालांकि बॉलीवुड में कई ऐसे अभिनेता भी हैं जिनके माता-पिता फ़िल्म इंडस्ट्री की जानी-मानी हस्ती हैं लेकिन उनके बच्चों को वही कामयाबी नसीब ना हो सकी.

1. अभिषेक बच्चन

इमेज कॉपीरइट PR

अभिनेता अमिताभ बच्चन के बेटे अभिषेक बच्चन ने साल 2000 में जेपी दत्ता की फ़िल्म 'रिफ़्यूजी' से करियर शुरू किया था.

इस फ़िल्म का बॉक्स ऑफ़िस पर बुरा हाल रहा. एक हिट फ़िल्म के लिए अभिषेक बच्चन को क़रीब चार साल इंतज़ार करना पड़ा.

इस दौरान उनकी 14 फ़िल्में फ्लॉप रहीं. साल 2004 में आई मणिरत्नम की फ़िल्म 'युवा' अभिषेक बच्चन की पहली हिट फ़िल्म थी.

इसके बाद उनकी 'बंटी और बबली', 'गुरू', 'धूम' और 'सरकार' जैसी चंद फ़िल्मों को ही सफलता मिली लेकिन अभिषेक अपने पिता जैसी शोहरत के नज़दीक भी नहीं पहुंच पाए.

2. बॉबी देओल

इमेज कॉपीरइट Beena Ahuja

अपने जमाने के एक्शन स्टार धर्मेंद्र के बड़े बेटे सनी देओल ने फ़िल्म इंडस्ट्री में अपनी जगह बनाई लेकिन छोटे बेटे बॉबी देओल उम्मीद के मुताबिक मुकाम हासिल नहीं कर सके.

साल 1995 में करियर शुरू करने वाले वाले बॉबी देओल करीब 41 फ़िल्मों में काम कर चुके हैं.

इनमें से 'गुप्त', 'सोल्जर', 'बादल', 'हमराज़' और 'दोस्ताना' जैसी फ़िल्मों को ही कामयाबी मिल सकी.

3. तुषार कपूर

इमेज कॉपीरइट Colors

मशहूर अभिनेता जीतेंद्र की बेटी एकता कपूर ने बतौर निर्माता टीवी और फ़िल्मों में अपना सिक्का जमाया लेकिन उनके बेटे तुषार कपूर अभिनेता के तौर पर ख़ास पहचान नहीं बना सके हैं.

4. लव सिन्हा

इमेज कॉपीरइट Alok Mathur

अपनी भारी भरकम आवाज़ से लोगों को 'खामोश' करने वाले अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा ने साल 2010 में फ़िल्म 'सदियां' में काम किया.

ये फ़िल्म ना समीक्षकों को पसंद आई और ना ही दर्शकों को.

5. सुनील आनंद

इमेज कॉपीरइट Mohanlal churiwala

सदाबहार अभिनेता देवानंद के बेटे सुनील आनंद ने 80 के दशक में 'आनंद ही आनंद', 'कार थीफ़' और 'मैं तेरे लिए' जैसी फ़िल्मों के ज़रिए बॉलीवुड में अपना सिक्का जमाने की कोशिश की लेकिन हर बार मुँह के बल गिरे.

उन्होंने साल 2001 में फ़िल्म 'मास्टर' से बॉलीवुड में निर्देशक के तौर पर दूसरी पारी शुरू करनी चाही पर इसमें भी नाकाम रहे.

6. महाअक्षय चक्रवर्ती

इमेज कॉपीरइट Soap Box PR

'डिस्को डांसर' मिथुन चक्रवर्ती के बेटे महाअक्षय चक्रवर्ती ने साल 2008 की फ़िल्म 'जिम्मी' से बॉलीवुड में क़दम रखा.

फ़िल्म ना तो समीक्षकों को रास आई और ना ही दर्शकों को भायी. महाअक्षय आज भी अपने पिता से अलग पहचान बनाने की कोशिश में लगे हैं.

7. फ़रदीन ख़ान

इमेज कॉपीरइट Universal PR

'क़ुर्बानी', 'धर्मात्मा', 'जाँबाज़' जैसी ज़बरदस्त फ़िल्में बनाने वाले अभिनेता और निर्माता-निर्देशक फ़िरोज़ ख़ान ने इकलौते बेटे फ़रदीन ख़ान को 'प्रेम अगन' फ़िल्म से लांच किया.

फ़रदीन ने राम गोपाल वर्मा की कुछ फ़िल्मों में काम किया जिन्हें सफलता भी मिली लेकिन पिता की मौत के बाद उनके फ़िल्मी सफ़र पर विराम सा लग गया.

8. एशा देओल

इमेज कॉपीरइट Beena Ahuja

ड्रीमगर्ल हेमा मालिनी और धर्मेंद्र की बेटी एशा देओल ने मां के नक्शे क़दम पर चलते हुए फ़िल्मों में अभिनय करने का निर्णय लिया.

एशा फ़िल्म इंडस्ट्री में अपनी मां की तरह ड्रीमगर्ल नहीं बन सकीं.

उनका करियर संवारने के लिए हेमा मालिनी ने 'टेल मी ओ ख़ुदा' फ़िल्म का निर्देशन भी किया लेकिन इस कोशिश से भी एशा देओल का करियर नहीं संभला.

9. कुमार गौरव

इमेज कॉपीरइट Mohanlal churiwala

राजेंद्र कुमार के बेटे कुमार गौरव अपनी पहली फ़िल्म 'लव स्टोरी' से रातोंरात सुपरस्टार बन गए थे.

हालांकि उसके बाद उनकी कोई भी फ़िल्म बॉक्स ऑफ़िस पर ना चल सकी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार