केजरीवाल ने कहा, तोमर पर मैंने की कार्रवाई

केजरीवाल इमेज कॉपीरइट AFP GETTY

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने विधानसभा में ये बयान दिया है कि उन्होंने पूर्व क़ानून मंत्री जितेंद्र सिंह तोमर पर कार्रवाई की और केंद्र भी अब सुषमा स्वराज और वसुंधरा राजे पर कार्रवाई करे.

केजरीवाल के इस बयान पर विधानसभा में भाजपा विधायकों ने हंगामा किया. सोशल मीडिया पर भी केजरीवाल के बयान पर चुटकी ली जा रही है और कहा जा रहा है कि तोमर पर कार्रवाई केजरीवाल ने नहीं बल्कि दिल्ली पुलिस ने की.

गौरतलब है कि शुरू में आम आदमी पार्टी ने तोमर का खुलकर समर्थन किया था और ये भी कहा था कि उनकी डिग्री फ़र्जी नहीं है. जब तोमर को दिल्ली पुलिस ने गिरफ़्तार किया, तो आप ने इसकी तुलना आपातकाल से कर दी.

लेकिन मंगलवार को केजरीवाल ने दिल्ली विधानसभा में कहा कि जिस तरह उन्होंने फ़र्ज़ी डिग्री मामले में फँसे पूर्व क़ानून मंत्री जितेंद्र तोमरपर कार्रवाई की है मोदी उसी तरह ललित मोदी स्कैंडल में फँसे अपने मंत्रियों पर कार्रवाई करके दिखाए.

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption कांग्रेस ने भी कहा है कि पीएम मोदी ललित मोदी स्कैंडल में निंद्रासन तोड़ें.

चुनौती

केजरीवाल ने कहा, "मैं प्रधानमंत्री से कहना चाहता हूँ कि जिस तरह मुझसे झूठ बोला गया है मुझे लगता है उनके कुछ मंत्री भी ऐसा ही कर रहे हैं. प्रधानमंत्री को वही करना चाहिए जो मैंने किया."

केजरीवाल के प्रधानमंत्री पर निशाना साधने पर बीजेपी के तीनों विधायकों ने सदन में जमकर हंगामा किया

बीजेपी विधायकों ने आम आदमी पार्टी के सभी विधायकों की डिग्री चैक करने की मांग कर डाली.

दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने केजरीवाल के बयान पर कहा है कि, "तोमर ने केजरीवाल को नहीं बल्कि केजरीवाल ने दिल्ली की जनता को धोखे में रखा है."

फ़र्ज़ी डिग्री मामले में गिरफ़्तार दिल्ली के पूर्व क़ानून मंत्री जितेंद्र सिंह तोमर इस समय तिहाड़ जेल में हैं.

आम आदमी पार्टी ने पहले तोमर की गिरफ़्तारी का बचाव करते हुए इसकी तुलना आपातकाल से की थी.

चुटकी

इशकरण एस भंडारी (‏@Ish_Bhandari) ने लिखा है केजरीवाल का झूठ. तोमर को एफ़आईआर और गिरफ़्तारी के बाद हटाया गया, किसी के आरोप लगाने के बाद नहीं.

डॉक्टर मनीष कुमार (‏@DrManishKumar1) ने लिखा है कि केजरीवाल ये चाहते हैं कि हम मान लें कि आईआईटियन+आईआरएस+मैगसेसे वाले व्यक्ति को एक कम पढ़े लिखे फर्जी डिग्री वाले ने मूर्ख बना दिया.

हालाँकि केजरीवाल का तर्क है कि अगर मीडिया में आ रही बातें सही हैं, तो उन्हें अंधेरे में रखा गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार